Saturday, Feb 29, 2020
delhi yamuna near danger mark arvind kejriwal called emergency meeting

दिल्ली: खतरे के निशान के करीब यमुना, केजरीवाल ने बुलाई आपातकालीन बैठक

  • Updated on 8/19/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। राष्ट्रीय राजधानी (National Capital) में बाढ़ का खतरा देखते हुए दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने आज अधिकारियों के साथ आपातकालीन बैठक बुलाई है। दिल्ली (Delhi) के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind kejriwal) इस बैठक की अध्यक्षता करेंगे। इसके अलावा सरकार ने यमुना के आस पास वाले इलाके खाली कराने के आदेश जारी किए हैं।

हथनीकुंड बैराज से पानी छोड़े जाने के कारण खतरे के निशान के करीब पहुंची यमुना

राजधानी दिल्ली बारिश ने जहां मौसम सुहाना कर दिया है वहीं राजधानी दिल्ली के यमुना खादर क्षेत्र के आसपास के इलाकों में बाढ़ (Flood) का खतरा बढ़ गया है। हरियाणा (Haryana) के हथनीकुंड बैराज (Hathni Kund barrage) से लगातार पानी के छोड़े जाने से ये हालात पैदा हुआ है। बताया जा रहा है कि हथिनी कुंड बैराज से अब तक 7 लाख क्यूसेक पानी छोड़ा जा चुका है जो पिछले 5 सालों मैं सबसे अधिक है। यही नहीं रविवार को भी करीब 2 लाख क्यूसेक पानी छोड़ा गया है जो सोमवार दोपहर दिल्ली पहुंच जाएगा और इसके चलते यमूना का अधिकांश खादर इलाका पानी में डूब जाएगा। 

यूएई और बहरीन की तीन दिवसीय यात्रा पर जाएंगे PM मोदी, कई मुद्दों पर करेंगे चर्चा

बता दें कि मौजूदा समय में भी यमुना (Yamuna) खतरे के निशान 204.83 के आसपास बह रही है।  इस संबंध में ईस्ट दिल्ली डीएम ने बताया कि प्रशासन ने एतियातन लगभग 12 हजार से अधिक लोगों को खादर इलाके को छोडऩे के आदेश जारी कर दिए  और उनके लिए अस्थाई टेंट लगाने की व्यवस्था की गई है। उन्होंने बताया कि हथनीकुंड बैराज से अधिक मात्रा में पानी छोड़ें जाने की वजह से यमुना का जल स्तर काफी तेजी से बढ़ रहा है। इससे तटवर्ती इलाकों में पानी भरने की पूरी संभावना है।  

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.