Friday, May 27, 2022
-->
demand-to-expel-rana-gurjit-in-punjab-congress-letter-to-sonia-gandhi-rkdsnt

पंजाब कांग्रेस में राणा गुरजीत को निकालने की मांग, सोनिया गांधी को पत्र

  • Updated on 1/18/2022

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। पंजाब प्रदेश कांग्रेस के चार नेताओं ने मंगलवार को पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी पत्र लिखकर आग्रह किया कि राज्य सरकार के मंत्री राणा गुरजीत सिंह को कांग्रेस से बाहर किया जाए क्योंकि वह विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी को ‘कमजोर कर रहे हैं।’ कांग्रेस ने गुरजीत को कपूरथला विधानसभा क्षेत्र से अपना उम्मीदवार बनाया है। 

कोरोना काल में अरबपतियों की बल्ले-बल्ले, कांग्रेस ने मोदी सरकार पर साधा निशाना

इस बीच, गुरजीत के पुत्र राणा इंदर प्रताप सिंह ने कपूरथला जिले की सुल्तानपुर लोधी विधानसभा सीट से बतौर निर्दलीय चुनाव लडऩे का फैसला किया है। इस सीट पर कांग्रेस ने अपने विधायक नवतेज सिंह चीमा को उम्मीदवार बनाया है। चीमा, जालंधर उत्तर से विधायक अवतार सिंह जूनियर, फगवाड़ा से विधायक बलविंदर सिंह धालीवाल और पूर्व विधायक सुखपाल सिंह खैरा ने सोनिया गांधी को पत्र लिखा है। 

राहुल गांधी ने ‘टेलीप्रॉम्पटर’ प्रकरण को लेकर पीएम मोदी पर किया तंज, BJP बचाव में उतरी

इन नेताओं ने यहां मीडिया को यह पत्र जारी किया। इसमें कहा गया है, ‘‘राणा गुरजीत सिंह दोआबा क्षेत्र के कई विधानसभा क्षेत्रों में दखल दे रहे हैं और पार्टी को कमजोर कर रहे हैं।’’ इन नेताओं ने कहा, ‘‘हमने राज्य इकाई के नेतृत्व को राणा गुरजीत की पार्टी विरोधी गतिविधियों के बारे में सूचित किया, लेकिन उनके खिलाफ कार्रवाई करने की बजाय उन्हें फिर से कैबिनेट में शामिल कर लिया गया।’’ 

BJP से निष्कासित हरक सिंह बोले- हरीश रावत मेरे बड़े भाई, माफी मांगने को तैयार

 राणा गुरजीत सिंह ने साल 2018 में रेत खनन के मामले में आरोप लगने के बाद अमरिंदर सिंह सरकार से इस्तीफा दे दिया था। चरणजीत सिंह चन्नी के मुख्यमंत्री बनने पर उन्हें फिर से मंत्री बनाया गया।

आईएएस (कैडर) नियमों में बदलाव पर ममता ने उठाए सवाल, PM मोदी को लिखा पत्र

comments

.
.
.
.
.