Thursday, Apr 09, 2020
denmark copenhagen c40 summit delhi cm arvind kejriwal climate change delhi pollution

CM केजरीवाल नहीं जा सकेंगे डेनमार्क, केंद्र से नहीं मिली मंजूरी

  • Updated on 10/8/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। डेनमार्क (Denmark) में आयोजित हो रहे सी-40 जलवायु सम्मेलन (C-40 Summit) में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Delhi CM Arvind Kejriwal) नहीं जा पाएंगे। विदेश मंत्रालय से अब तक उनकी यात्रा को मंजूरी नहीं मिली है। आज यानी मंगलवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को डेनमार्क के कोपनहेगन (Copenhagen) में होने वाले सी-40 सम्मेलन में भाग लेने के लिए जाना था। 

ये सम्मेलन 09 से 12 अक्टूबर तक आयोजित होगा। सीएम केजरीवाल इस सम्मेलन में 8 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व करने वाले थे। खबर है कि विदेश मंत्रालय ने पश्चिम बंगाल के शहरी विकास मंत्री फरहाद हाकिम की यात्रा को मंजूरी दे दी है।इस सम्मेलन में सीएम केजरीवाल दिल्ली से प्रदूषण (Delhi Pollution) कम करने के लिए अपनी सरकार द्वारा किए गए प्रयासों को साझा करने वाले थे। 

केजरीवाल क्लाइमेट चेंज पर 20 देशों के नेताओं से करेंगे संवाद

इन देशों के नेता ले रहे हैं भाग
इस सम्मेलन में न्यूयार्क, लंदन, पैरिस, लॉस एंजलिस और बर्लिन से आए नेताओं के साथ एक मंच पर सीएम केजरीवाल प्राकृतिक आपदा से पार पाने और पर्यावरण में तीव्रता के साथ हो रहे बदलावों पर चर्चा करेंगे। दिल्ली में 25 प्रतिशत प्रदूषण कम करने के अपने प्रयासों को भी सीएम केजरीवाल दुनिया भर से आए नेताओं और विशेषज्ञों से साझा करने वाले थे, लेकिन केंद्र सराकर से मंजूरी न मिलने के बाद अब वो इस सम्मेलन में भाग नहीं ले सकेंगे। 

दिल्ली ने कैसे लड़ी प्रदूषण के खिलाफ लड़ाई, डेनमार्क से पूरे विश्व को बताएंगे CM केजरीवाल

दिल्ली से कम हुआ 25 प्रतिशत प्रदूषण
बता दें कि हाल ही में सीएम केजरीवाल ने एक प्रेस कॉन्फ्रेस में बताथा था कि दिल्ली  में 25 प्रतिशत प्रदूषण कम हुआ है। साल 2012-2014 में प्रदूषण का पर्टिकुलेट मैटर (PM) 154 था। जो 2016-2018 में 115 पीएम रह गया है। इसका मतलब है कि दिल्ली का 25 प्रतिशत प्रदूषण कम हुआ है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.