Monday, Nov 28, 2022
-->
department allotted to new ministers in punjab, aman arora got urban development

पंजाब में नए मंत्रियों को विभाग आवंटित, अमन अरोड़ा को मिला शहरी विकास

  • Updated on 7/5/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने राज्य मंत्रिपरिषद में शामिल किए गए पांच नए मंत्रियों को मंगलवार को विभाग आवंटित कर दिए तथा कुछ अन्य के विभागों में फेरबदल किया गया। मान ने अपनी तीन महीने पुरानी सरकार में सोमवार को पहला मंत्रिपिरषद विस्तार किया था। मुख्यमंत्री ने अपने पास रहे कृषि सहित कुछ प्रमुख विभागों को भी छोड़ दिया और ये कुछ अन्य मंत्रियों को आवंटित कर दिए। नए मंत्रियों में चेतन सिंह जौरामाजरा को स्वास्थ्य मंत्रालय दिया गया है, जबकि अमन अरोड़ा आवास एवं शहरी विकास विभाग संभालेंगे। वहीं, अनमोल गगन मान को पर्यटन एवं संस्कृति मंत्रालय आवंटित किया गया है। मुख्यमंत्री भगवंत मान ने ट्वीट करके मंत्रियों के विभागों के आवंटन के बारे में जानकारी दी। 

राहुल गांधी के बयान का मामला: टीवी एंकर को छत्तीसगढ़ की बजाए यूपी पुलिस ने लिया हिरासत में

  •  

मान ने अपनी मंत्रिपरिषद का विस्तार करते हुए आम आदमी पार्टी (आप) के पांच और विधायकों को इसमें शामिल किया था। इस वर्ष के शुरू में हुए विधानसभा चुनाव में आप की भारी जीत के बाद गठित मान-सरकार का यह पहला मंत्रिपरिषद विस्तार था। आवंटित विभागों के अनुसार, अरोड़ा को सूचना एवं जनसंपर्क, नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा संसाधन, आवास एवं शहरी विकास विभाग दिया गया है। डॉ. इंदरबीर सिंह निज्जर को स्थानीय सरकार, संसदीय मामले, भूमि एवं जल संरक्षण और प्रशासनिक सुधार विभाग सौंपा गया है। फौजा सिंह स्वतंत्रता सेनानी एवं रक्षा सेवा कल्याण, खाद्य प्रसंस्करण एवं बागवानी का प्रभार संभालेंगे। जौरामाजरा को जहां स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, चिकित्सा शिक्षा और अनुसंधान विभाग का दायित्व दिया गया है, वहीं अनमोल गगन मान पर्यटन एवं संस्कृति, निवेश संवर्धन, श्रम एवं शिकायत निवारण मंत्रालय संभालेंगी। 

आतंकी तालिब हुसैन शाह को लेकर कांग्रेस ने भाजपा पर बोला हमला, उठाए सवाल

अनमोल गगन मान आप सरकार में कैबिनेट मंत्री के रूप में शामिल की गईं दूसरी महिला मंत्री हैं। मुख्यमंत्री द्वारा छोड़े गए विभागों में कृषि, बागवानी, आवास और शहरी विकास, संसदीय कार्य, सूचना और जनसंपर्क और नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा स्रोत शामिल हैं। स्वास्थ्य मंत्री विजय सिंगला को भ्रष्टाचार के आरोपों में राज्य मंत्रिपरिषद से बर्खास्त किए जाने के बाद, स्वास्थ्य और चिकित्सा शिक्षा विभागों को मुख्यमंत्री देख रहे थे। विभागों के फेरबदल में मंत्री हरजोत बैंस को स्कूली शिक्षा विभाग भी दिया गया है, जिसे पहले गुरमीत सिंह मीत हेयर संभाल रहे थे। फेरबदल में पर्यटन और सांस्कृतिक मामलों के विभाग को छोडऩे वाले बैंस जल संसाधन विभाग भी संभालेंगे, जो पहले ब्रह्म शंकर जिम्पा के पास था। ग्रामीण विकास एवं एनआरआई मामले विभाग देख रहे कुलदीप सिंह धालीवाल अब कृषि विभाग भी संभालेंगे। 

गुजरात चुनाव से पहले केजरीवाल AAP की रणनीति के तहत हर हफ्ते करेंगे राज्य का दौरा 

सहकारिता विभाग जो पहले वित्त मंत्री हरपाल सिंह चीमा के पास था, अब मुख्यमंत्री के पास रहेगा। अन्य मंत्रियों में, चीमा वित्त, उत्पाद शुल्क और कराधान, डॉ. बलजीत कौर सामाजिक न्याय, अधिकारिता और अल्पसंख्यक, सामाजिक सुरक्षा, महिला और बाल विकास विभाग, बिजली विभाग हरभजन सिंह, खाद्य, नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता मामले, जंगल व वन्य जीव मामले लालचंद के पास रहेंगे तथा गुरमीत सिंह मीत हेयर के पास खेल व युवा मामले और उच्च शिक्षा विभाग रहेंगे। इसी तरह, लालजीत भुल्लर के पास परिवहन विभाग बरकरार है जबकि ब्रह्म शंकर जिम्पा के पास राजस्व, पुनर्वास ,आपदा प्रबंधन, जल आपू्र्ति और स्वच्छता विभाग बरकरार रहे हैं। हरजोत बैंस के पास खान और भूविज्ञान तथा जेल विभाग बरकरार रहे हैं। 

योगी सरकार के 100 दिन के मौके पर अखिलेश यादव ने तबादलों पर सवाल उठाए

पांच नए मंत्रियों को सोमवार को शामिल किए जाने के साथ ही राज्य मंत्रिपरिषद के सदस्यों की संख्या मुख्यमंत्री सहित 15 हो गई है। आप की सरकार बनने के बाद मार्च में पहली बार के आठ विधायकों सहित कुल 10 विधायकों को मंत्री बनाया गया था। हालांकि, मई में स्वास्थ्य मंत्री विजय सिंगला को भ्रष्टाचार के आरोपों में राज्य कैबिनेट से बर्खास्त कर दिया गया था, जिससे कैबिनेट में मंत्रियों की संख्या नौ रह गई। पंजाब कैबिनेट में मुख्यमंत्री सहित 18 लोग मंत्री बन सकते हैं। आम आदमी पार्टी ने पंजाब विधानसभा की कुल 117 में से 92 सीट जीतकर सत्ता हासिल की थी। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.