Monday, Oct 22, 2018

विवेक तिवारी हत्याकांड: CM योगी ने पूरा किया वादा, कल्पना को इस विभाग में मिली नौकरी

  • Updated on 10/11/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। एप्पल के एरिया सेल्स मैनेजर स्वर्गीय विवेक तिवारी की तेरहवीं पर आज उनकी पत्नी कल्पना तिवारी को सरकारी नौकरी का नियुक्ति पत्र प्रदान किया गया। कल्पना को नगर निगम विकास विभाग ने नगर निगम लखनऊ में विशेष कार्याधिकारी नियुक्त किया है।

उनके आवास पर मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा को साथ कैबिनेट मंत्री आशुतोष टंडन तथा महापौर सयुंक्ता भाटिया ने उनको नियुक्ति पत्र प्रदान किया।इस मौके पर कल्पना ने कहा कि विवेक तिवारी हत्याकांड की यूपी पुलिस की तरफ से निष्पक्ष जांच हो रही है। सरकार ने जो वायदे किए थे उसे निभा रही है।

 बिहार- युवक ने CM नीतीश कुमार की तरफ चप्पल फेंककर की नारेबाजी

बता दें कि प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ के कल्पना तिवारी को नगर निगम में नौकरी देने की घोषणा की थी। नगर निगम, लखनऊ ने रिक्त पद प्रधान लिपिक या जनसंपर्क अधिकारी का प्रस्ताव शासन को भेजा था। शासन ने ओएसडी पद का सृजन करते हुए उनकी तैनाती कर दी। 

दो एफआईआर हो चुकी है दर्ज
याद दिला दें कि विवेक तिवारी हत्याकांड में अब तक दो एफआईआर दर्ज हो चुकी है। इसमें पहली एफआईआर मामले की एकमात्र चश्मदीद सना की तरफ से दर्ज हुई थी। उस एफआईआर में किसी को नामजद नहीं किया गया था, आरोपी को अज्ञात बताया गया था।

इसके बाद विवेक की पत्नी की तरफ से दूसरी एफआईआर दर्ज की दई, जिसमें दोनों सिपाहियों को नामजद किया गया। वहीं मामले में गिरफ्तार होने से पहले गोमतीनगर थाने में प्रशांत चौधरी और उसकी पत्नी आरोप लगा रहे थे कि उनकी शिकायत को पुलिस दर्ज नहीं कर रही है।

आम्रपाली ग्रुप पर फिर गिरी सुप्रीम कोर्ट की गाज, अब 9 संपत्तियां होंगी सील

ये है पूरा मामला 
गोमतीनगर विस्तार के सीएमएस स्कूल के पास  करीब ढाई बजे एक कार खड़ी थी। उसी दौरान पुलिस बाइक पर सवार होकर गोमतीनगर थाने में तैनात सिपाही प्रशांत चौधरी और एक अन्य सिपाही वहां पहुंचे। दोनों ने कार में एक युवक और युवती को देखा तो मामला संदिग्ध समझ उनसे पूछताछ के लिए कार के पास पहुंचे। इतने में ही कार चला रहे विवेक तिवारी ने गाड़ी चला दी।

आरोप है कि पुलिस ने रोकने का प्रयास किया तो युवक ने कार चढ़ाने की कोशिश की। इससे सिपाहियों को चोट आई और उनकी बाइक भी क्षतिग्रस्त हो गई। इस पर भी जब कार नहीं रुकी तो सिपाही प्रशांत चौधरी ने फायरिंग कर दी। गोली सीधे जाकर विवेक के सिर में लगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.