Wednesday, Jan 26, 2022
-->
devasthanam-board-prevented-pilgrims-from-going-to-kedarnath-temple-musrnt

देवस्थानम बोर्ड ने तीर्थ पुरोहितों को केदारनाथ मंदिर में जाने से रोका, हंगामा

  • Updated on 5/22/2021

रुद्रप्रयाग/ब्यूरो। बाबा केदार के हकहकूकधारी तीर्थ पुरोहितों ने मंदिर में प्रवेश वर्जित करने पर नाराजगी जताई। जिसके चलते पुरोहितों ने देवस्थानम बोर्ड के खिलाफ मंदिर द्वार के समक्ष प्रदर्शन कर आंदोलन शुरू किया। तीर्थ पुरोहितों ने मंदिर में जल चढ़ाने की  मांग की है। जिस पर देवस्थानम बोर्ड के अधिकारियों संग वार्ता करने पर उन्हें मंदिर में प्रवेश की इजाजत दी गयी।  
बाबा केदार के मंदिर के कपाट 17 मई को विधिविधान के साथ खोल दिये गए। बाबा की केदार की डोली यात्रा में तीर्थ पुरोहित भी शामिल हुए थे, तथा इस दौरान उन्होंने यात्रा में पूरी भूमिका निभाई थी। जो भी तीर्थ पुरोहित धाम में गये वे कोरोना की नेगेटिव रिपोर्ट व एसडीएम कार्यालय से पास लेकर गए थे। जबकि तीर्थ पुरोहित कपाट खुलने के बाद से ही धाम में मौजूद हैं।

हालांकि शासन द्वारा चारधाम यात्रा पर रोक लगाने के चलते केदारनाथ यात्रा में मंदिर में प्रवेश वर्जित होने के नियम लागू होते हैं। किंतु तीर्थ पुरोहितों का कहना है कि जब वे सभी नियमों का पालन कर रहे हैं तो उन्हें क्यों मंदिर में प्रवेश करने से रोका जा रहा है। कहा कि वे मंदिर में जल चढ़ाने गए तो मुख्य गेट पर ताला लगाया गया था। जिसे उन्होंने सरासर गलत करार दिया।

कहा कि देवस्थान बोर्ड उनके अधिकारों को छिनने का प्रयास कर रहा है। जिसके चलते तीर्थ पुरोहितों ने मंदिर द्वार के समक्ष धरना प्रदर्शन शुरू कर अपनी मांग पूरी करने की ठानी। इन दौरान तीर्थ पुरोहितों ने देवस्थानम बोर्ड के उप मुख्य कार्याधिकारी बीडी सिंह से वार्ता की।

सिंह ने कहा कि यदि वे कोरोना की गाइडलाइन की शर्तें पूरी करते हैं तो वे भी भगवान केदार की पूजा अर्चना कर सकते हैं। जिसके बाद द्वार का ताला खोल कर तीर्थ पुरोहितों ने मंदिर में प्रवेश कर भगवान केदार की पूजा अर्चना की। इस दौरान तीर्थ पुरोहित तेज प्रकाश त्रिवेदी, अंकुर शुक्ला, पंकज शुक्ला, नवीन शुक्ला, रमाकांत त्रिवेदी, अमित शुक्ला, प्रवीन तिवारी सहित अन्य तीर्थ पुरोहित मौजूद थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.