Monday, Dec 06, 2021
-->
devendra fadnavis criticized shivsena over karachi statement first bring back pok pragnt

देवेंद्र फडणवीस ने 'कराची' वाले बयान पर शिवसेना का तंज, कहा- पहले PoK वापस लाओ

  • Updated on 11/23/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। महाराष्ट्र (Maharashtra) के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी (BJP) के वरिष्ठ नेता देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) के 'अखंड भारत' और 'कराची भी एक दिन भारत का हिस्सा होगा' वाले बयान पर शिवसेना नेता संजय राउत (Sanjay Raut) ने तंज कसा है। राउत ने कहा कि पहले वह कश्मीर लाओ, जिस पर पाकिस्तान का कब्जा है। हम बाद में कराची जाएंगे। 

शिवसेना का BJP पर तंज, कहा- जो सावरकर को ‘‘भारत रत्न’’ नहीं दे सके, वे JNU का नाम....

फडणवीस के बयान पर राउत का तंज
शिवसेना नेता संजय राउत ने सोमवार को पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि अगर कराची हिंदुस्तान में आता है तो हम उसका स्वागत करते हैं लेकिन सबसे पहले जो पाक के कब्जे में कश्मीर है वो लाइए, बाद में हम कराची तक भी पहुंच जाएंगे। बता दें कि देवेंद्र फडणवीस ने शनिवार को कहा था, हम 'अखंड भारत' में पूरा विश्‍वास करते हैं। इसके साथ ही उन्‍होंने कहा था, 'हम यह भी मानते हैं कि कराची एक दिन भारत का हिस्सा होगा।' उनका यह बयान शिवसेना के एक नेता द्वारा कथित तौर पर बांद्रा वेस्ट में कराची स्वीट्स की दुकान के मालिक से 'कराची' शब्द नाम हटाने पर आया है।

महाराष्ट्र: 6 दिन से लापता तीन युवकों की पेड़ से लटकी मिली लाशें, मोक्ष पाने के लिए किया Suicide

शिवसेना की 'कराची स्वीट्स'का नाम बदलने की मांग
गौरतलब है कि शिवसेना के एक कार्यकर्ता ने मांग की थी कि यहां एक मिठाई की दुकान का मालिक अपनी दुकान के नाम से 'कराची' शब्द हटा दे क्योंकि यह एक पाकिस्तानी शहर है। महाराष्ट्र में सत्ताधारी शिवसेना ने हालांकि इस मांग से स्वयं को अलग कर लिया। शिवसेना कार्यकर्ता नितिन नंदगांवकर फेसबुक पर साझा किये गए एक वीडियो क्लिप में उपनगरीय बांद्रा स्थित 'कराची स्वीट्स' के मालिक से दुकान का नाम बदलकर कुछ और करने के लिए कहता दिख रहा है।

बिहार विधानसभा का सत्र शुरू होते ही तार किशोर प्रसाद और रेणु देवी ने ली शपथ, सदन में दिखे ये बदलाव

पाकिस्तान आतंकवादियों का देश- शिवसेना कार्यकर्ता
वीडियो क्लिप में वह दुकान के मालिक से यह कहता सुना गया कि वह अपनी दुकान का नाम अपने पिता या दादा के नाम पर कर ले। नंदगांवकर ने कहा था, 'मुंबई में कराची नाम का इस्तेमाल नहीं करो..हमें कराची नाम से परेशानी है। हमारा जवान भाईदूज पर शहीद हो गया। पाकिस्तान आतंकवादियों का एक देश है।' नंदगांवकर ने मालिक से कहा था कि वह उसे दुकान का नाम बदलने के लिए समय देंगे। वीडियो क्लिप में नंदगांवकर ने कहा था कि सभी साइनबोर्ड से 'कराची' शब्द 15 दिन में हटा लिया जाना चाहिए।

PM मोदी ने संसद सदस्यों के लिए बहुमंजिला फ्लैटों का उद्घाटन किया

संजय राउत ने किया समर्थन
हालांकि शिवसेना के राज्यसभा सदस्य संजय राउत ने बाद में ट्वीट किया कि कराची बेकरी और कराची स्वीट दुकान पिछले 60 वर्षों से मुंबई में चल रही हैं, और 'उनका पाकिस्तान से कोई लेना-देना नहीं है।' राज्यसभा सदस्य ने कहा, 'अब उनके नाम बदलने के लिए कहने का कोई मतलब नहीं है। उनका नाम बदलने की मांग शिवसेना का आधिकारिक रुख नहीं है।' आम आदमी पार्टी (आप) ने एक बयान में शिवसेना पर उसके एक कार्यकर्ता द्वारा दुकान के मालिक को 'धमकाने' को लेकर निशाना साधा और मुंबई पुलिस से इस पर संज्ञान लेने के लिए कहा।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.