Monday, Nov 28, 2022
-->
devotees played vermilion while filling a lot in the farewell of maa durga

भक्तों ने मां दुर्गा की विदाई में जमकर खोइछा भरते हुए सिंदूर खेला

  • Updated on 10/5/2022

नई दिल्ली,(टीम डिजिटल):दिल्ली से सटे नोएडा के दुर्गा पंडालों और सोसाइटियों में बुधवार को अंतिम दिन मां भगवती की विधि विधान से पूजा अर्चना की गई। विसर्जन से पहले शहर के पूजा पंडालों और दुर्गा मंडपों में महिलाओं ने माता की प्रतिमा को खोइछा भरते हुए सिंदूर खेला के रस्मों को पूरा किया। भक्तों ने मां को फिर आने को कहकर विदा किया। उधर, ओखला बैराज पर मां दुर्गा की प्रतिमा को विसर्जित करने के लिए दो क्रेनो का इस्तेमाल भी किया गया। इस दौरान भक्तों का उत्साह देखने लायक था। मां की विदाई के वक्त लोग मायूस दिखे। इस दौरान कालिंदी कुंज की ओर सडक़ों पर उमड़े भक्तों के लिए पुलिस प्रशासन द्वारा इंतजाम किए गए थे। 
सेक्टर-26 स्थित कालीबाड़ी मंदिर में बुधवार सुबह के करीब 10 बजे विदाई कार्यक्रम शुरू हुआ। यहां पूजा के बाद मां दुर्गा को लेकर सोसायटी में लोगों को दर्शन कराए गए। इसके बाद कालिंदीकुंज की ओर प्रस्थान किया गया। इस दौरान काफी संख्या में लोग मौजूद रहे। वृद्ध महिलाओं से लेकर नवविवाहिताओं ने एक-दूसरे को सिंदूर लगाया, जिसके बाद श्रद्धालुओं ने माता को विदाई दी। बंगाली समुदाय की महिलाएं पारंपरिक वेशभूषा (साड़ी) में नजर आईं। उन्होंने एक दूसरे को सिंदूर लगाया। दशहरा के दिन ही मां दुर्गा ने महिषासुर राक्षस का वध किया था। वहीं ग्रेटर नोएडा में भी कई सोसाइटियों में बुधवार को श्रद्धालुओं ने माता की प्रतिमा पर पुष्पवर्षा की। बंगाली कल्चरल एसोसिएशन ने दुर्गा महोत्सव के अंतिम दिन सिंदूर खेला कार्यक्रम का आयोजन किया। पंचशील ग्रीन-1 सोसाइटी में दुर्गा पूजा समिति की तरफ से दुर्गा उत्सव का समापन किया गया। इस दौरान ग्रेनो प्राधिकरण की तरफ से बने तालाब में आसपास की सोसाइटियों के लोगों ने मां दुर्गा की प्रतिमा का विसर्जन किया। तालाब में प्राधिकरण ने पानी के साथ ही साफ-सफाई के इंतजाम किए गए थे।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.