Saturday, Nov 16, 2019
diabetes patients have the highest risk of skin diseases

डायबिटीज के मरीजों में सबसे ज्यादा होता है स्किन की बीमारियों का खतरा, ऐसे रखें ख्याल

  • Updated on 7/2/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटलः डायबिटीज (Diabetise) एक गंभीर बीमारी है और यह किसी की जान भी ले सकती है यह तो हम सभी जानते हैं और हम में से अधिकतर लोग यह भी जानते हैं कि आज दुनिया में हर पांच में से 1 व्यक्ति इस बीमारी से जूझ रहा है, लेकिन यह कम ही लोग जानते हैं कि डायबिटीज व्यक्ति को शारीरिक परेशानियों के साथ-साथ स्किन संबंधी समस्याएं भी देती है।

जुलाई में ही लॉन्च हो सकता है फोल्डेबल कैमरे वा Samsung Galxy A80

जी हां, डायबिटीज के मरीजों में स्किन संबंधी समस्याएं भी बढ़ाता है, लेकिन अक्सर लोग यह नहीं जान पाते कि स्किन संबंधी इन्फेक्शन या अन्य और बीमारियां उन्हें बार-बार क्यों घेर रही हैं। तो अगर आपको भी डायबिटीज है तो सावधान हो जाइए और अगर आपको इस दौरान स्किन संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है तो डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

गर्भावस्था में खतरनाक हो सकता है अस्थमा का अटैक, ऐसे रखें ख्याल

डायबेटीक डर्मोपैथी (Diabetic Dermopathy)- किसी भी डायबिटीज के मरीज में डायबेटीक डर्मोपैथी की समस्या का पता स्किन पर ओवल और गोल आकार के डार्क रंग के चकत्ते पड़ने से लगाया जा सकता है। ये बीमारी पैर के ऊपरी हिस्से पर होती है। हालांकि, यह बात और है कि इससे शरीर को किसी तरह का नुकसान नहीं पहुंचता है, लेकिन अगर फिर भी आपको यह समस्या हो रही है तो आप डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं।

कहीं आप भी तो नहीं खा रहे ब्राऊन राइस के नाम पर प्लास्टिक?

अकन्थोसिस निगरिकन्स (Acanthosis Nigricans)- वैसे तो अकन्थोसिस नगरिकन्स अधिकतर मोटापे से पीड़ित मरीजों में देखने को मिलती है, लेकिन डायबिटीज के रोगियों में भी यह बीमारी देखने को मिल सकती है। अकन्थोसिस निगरिकन्स होने पर गर्दन, कोहनी, पैर और बाजू की स्किन डार्क ब्राउन रंग में तब्दील होने लगती है, लेकिन वजन कम कर के इस बीमारी से छुटकारा पाया जा सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.