Wednesday, Sep 28, 2022
-->
digvijay-retorted-on-agriculture-ministers-statementsaid-bjp-spreads-hatred-in-society-albsnt

कृषि मंत्री के 'खून से खेती' के बयान पर दिग्विजय का पलटवार, कहा- समाज में नफरत फैलाती है BJP

  • Updated on 2/5/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कृषि कानून को लेकर न सिर्फ मोदी सरकार को किसानों के विरोध झेलने पड़ रहे है बल्कि विपक्षी दलों से भी खरी-खोटी सुनने  पड़ते है। इसी कड़ी में आज राज्यसभा में जब कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने बयान दिया तो विपक्षी दलों ने आड़े हाथ लिया। दरअसल कृषि मंत्री ने नए कृषि कानून का फायदा गिनाया तो साथ में ही जोड़ा कि खेती तो पानी से होती है लेकिन कांग्रेस खून से खेती कराना जानती है। जिस पर कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने पलटवार किया।

 6 फरवरी को चक्का जाम से उत्तरप्रदेश,उत्तराखंड को रखा गया बाहर, राकेश टिकैत ने बताई वजह

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि कृषि मंत्री को बताना चाहिये की गोधरा में जो हुआ वो पानी से खेती थी या खून से खेती हुई थी। उन्होंने कृषि मंत्री पर किसानों को बरगलाने का भी आरोप लगाया।उन्होंने कहा कि बीजेपी हमेशा से समाज और देश को बांटकर राजनीति करने में विश्वास करती है। लेकिन कांग्रेस सभी को साथ लेकर चलने और सत्य,अहिंसा के पथ पर आगे बढ़ने में विश्वास करती है। यहीं अंतर है जो कांग्रेस और बीजेपी में फर्क पैदा करती है। उन्होंने कहा कि बीजेपी का इतिहास गवाह है कि हमेशा से हिंसा और दंगा का सहारा लेकर ही राजनीति करती रही है। उन्होंने कहा कि असदुद्दीन औवैसी और बीजेपी के बीच संबंध अब किसी से छिपे हुए नहीं है। इन दोनों दलों के सांठगांठ से ही हिंसा को भड़काया जाता है।

'LG की शक्तियां बढ़ाकर पिछले दरवाजे से दिल्ली की जनता पर राज करना चाहती है मोदी सरकार'

मालूम हो कि एक तरफ कृषि कानून को लेकर गाजीपुर बॉर्डर पर बड़ी संख्या में किसान राकेश टिकैत के नेतृत्व में बैठे हुए है,जो कानून की वापसी तक नहीं जाने के संकल्प को दोहराते रहते है। इस बीच किसान नेता ने आगामी 6 फरवरी को चक्का जाम करने का ऐलान किया है। जो दिन में 12 बजे से 3 बजे तक आयोजित किया जाएगा। जिसके बाद किसान स्थानीय अधिकारी को एक ज्ञापन सौपेंगे।

ये भी पढ़ें:

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.