Thursday, Dec 09, 2021
-->
doctor surprised by getting black fungus in small intestine kmbsnt

दिल्ली: छोटी आंत में ब्लैक फंगस मिलने से डॉक्टर हैरान, ऐसे मामले अति दुर्लभ

  • Updated on 5/23/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली के एक निजी अस्पताल में हाल ही में सामने आए दो मामलों ने ब्लैक फंगस से जुड़ी अब तक की थ्योरी को बदल कर रख दिया है। इन दोनों मरीजों की छोटी आत में ब्लैक फंगस पाया गया है। डॉक्टर भी इससे अचंभित हैं और इसे एक दुर्लभ मामला बता रहे हैं।

ब्लैक फंगस के अब तक फेफड़ों, आंख, नाक या दिमाग में ही पनपने के मामले सामने आए थे। हालांकि दोनों मरीजों को समय से उपचार मिल जाने से वह खतरे से बाहर बताए गए हैं। दिल्ली निवासी 56 वर्षीय कुमार ने कोरोना के कारण अपनी पत्नी सहित अपने परिवार के तीन सदस्यों को खो दिया।

AAP नेताओं ने पत्र लिख कर PM Modi को किसानों के साथ फिर से बातचीत करने का आग्रह किया

डॉक्टरों को दिखा छोटी आत में छेद
पेट में दर्द होने की वजह से कुमार बड़ी मुश्किल से अपनी पत्नी का अंतिम संस्कार कर पाए। कुमार और उनकी पत्नी कुछ दिनों पहले कोरोना पॉजिटिव हुए थे। शुरुआत में हल्का लक्षण था। इस दौरान उनके पेट के दर्द को गैस्ट्राइटिस या इससे संबंधित माना जा रहा था, लेकिन जब दर्द ज्यादा बढ़ा तो सिटी स्कैन कराया गया। जिसके बाद उनकी छोटी आत में छेद की बात सामने आई।

छोटी आंत के पहले भाग में फंगल रोग
कोरोना संक्रमण के कारण वेंटिलेटर सपोर्ट की भी जरूरत थी। गंगाराम अस्पताल सर्जिकल गैस्ट्रोएनटरोलॉजी और लीवर प्रत्यारोपण विभाग के डॉक्टर उषास्त धीर के मुताबिक उन्हें रोगी में छोटी आंत के पहले भाग में फंगल रोग का संदेह हुआ।जिसके बाद कुमार का तुरंत एंटीफंगल उपचार शुरू कर दिया गया। इसके अलावा चिकित्सक ने आंत का हिस्सा बायोप्सी जांच के लिए भी भेज दिया। 

बायोप्सी जांच में कराई गई तो ब्लैक फंगस की पुष्टि हुई। ध्यान देने वाली बात है कि दोनों मरीजों को कोरोना था और डायबिटिक भी थे, लेकिन सिर्फ 68 साल के एजाज को ही स्टेरॉयड दिया गया था। डॉक्टर उषास्त धीर के मुताबिक इनमें से एक मरीज घर पर थे, क्योंकि उन्हें माइल्ड कोरोना था।

CM केजरीवाल ने डाॅ. अनस मुजाहिद के परिवार को एक करोड़ रुपए की सहायता राशि का चेक सौंपा

बहुत दुर्लभ बीमारी
तीसरे चौथे दिन जब इनके पेट में दर्द शुरू हुआ तब उन्होंने इसे गैस माना और घरेलू उपचार लिया। जब पेट में ज्यादा दर्द हुआ तो अस्पताल आए। आमतौर पर ब्लैक फंगस में राइनो ऑर्बिटल सेरेब्रल सिस्टम या फेफड़े शामिल होते हैं। आंतो या जीआई  म्यूकोमर्कोसिस बहुत दुर्लभ बीमारी है और इसमें आमतौर पर पेट या बड़ी आंख शामिल होती है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.