Sunday, Oct 02, 2022
-->
does the executive treat the judiciary as a small child: bombay high court

क्या कार्यपालिका न्यायपालिका को छोटा बच्चा समझती है: हाई कोर्ट

  • Updated on 7/25/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। बंबई उच्च न्यायालय ने सरकारी स्कूलों में स्वच्छ शौचालय मुहैया कराने में नाकाम रहने को लेकर महाराष्ट्र सरकार की ङ्क्षखचाई करते हुए सोमवार को कहा कि क्या कार्यपालिका न्यायपालिका को 'छोटा बच्चान्यायमूर्ति  समझती है, जिसे लॉलीपॉप देकर शांत किया जा सकता है। मुख्य न्यायाधीश दीपांकर दत्ता और न्यायमूर्ति एम एस कार्णिक की पीठ ने कहा कि राज्य सरकार ने समूचे प्रदेश के सरकारी स्कूलों के शौचालयों में स्वच्छता के उचित और प्रभावी प्रबंधन के लिए पर्याप्त कदम नहीं उठाए हैं। 

सौ करोड़ रु में राज्यपाल पद, राज्यसभा सीट की फर्जी पेशकश करने वाले गिरोह का भंडाफोड़

  •  

अदालत विधि छात्रा निकिता गोरे और वैष्णवी घोलवे की याचिका पर सुनवाई कर रही थी, जिसमें मासिक धर्म के लिए प्रभावी स्वच्छता प्रबंधन को लागू करने में केंद्र और राज्य सरकारों की विफलता पर चिंता जताई गई है। याचिका में सरकारी स्कूलों में लड़कियों के लिए गंदे शौचालयों के मुद्दे को भी उठाया गया है। गोरे ने महाराष्ट्र के सात जिलों के 16 शहरों के स्कूल में सर्वेक्षण किया था। 

कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने ईरानी की बेटी के कथित रेस्त्रां के बाहर किया प्रदर्शन

अतिरिक्त सरकारी वकील भूपेश सामंत ने सोमवार को पीठ को बताया कि ऐसे सात स्कूलों के खिलाफ कार्रवाई की गई है और इस बाबत पीठ को एक दस्तावेज सौंपा। पीठ ने तब कहा कि दस्तावेका 24 जुलाई 2022 का है। मुख्य न्यायाधीश दत्ता ने कहा, 'कार्यपालिका हमारे (न्यायपालिका के) बारे में क्या सोचती है? क्या हम छोटे बच्चों की तरह हैं, जिन्हें आप लॉलीपॉप दे देंगे और हम शांत हो जाएंगे?’’ 

CJI रमण ने किया साफ- मीडिया द्वारा संचालित कंगारू अदालतें लोकतंत्र के लिए हानिकारक

पीठ ने आगे कहा कि जब कार्रवाई की जाएगी तो एक महीने तक शौचालयों का रखरखाव किया जाएगा, लेकिन बाद में चीजें पहले की तरह हो जाएंगी। अदालत ने महाराष्ट्र जिला विधिक सेवा प्राधिकरण (एमडीएलएसए) को ऐसे स्कूलों की निगरानी और औचक निरीक्षण करने का निर्देश दिया।

अमित शाह की अपील- 13 अगस्त से 15 अगस्त के बीच घरों में फहराएं तिरंगा

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.