Saturday, Apr 17, 2021
-->
donald trump said i will not forget the spread of coronavirus from china pragnt

कोरोना को लेकर ट्रंप ने साधा चीन पर निशाना, कहा- कहां से आया वायरस कभी नहीं भूलूंगा

  • Updated on 9/26/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। चीन (China) के वुहान से शुरू हुए कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी ने दुनिया भर में तबाही मचा कर रखी हुई है। इस वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित देश अमेरिका है। यहां पर सबसे अधिक मौतें हुई हैं। इस वायरस को लेकर अमेरिका (America) के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) लगातार चीन पर हमलावर रहे हैं। अब हाल ही में डोनाल्ड ट्रंप ने दोबारा सत्ता में आने की स्थिति में चीन पर देश की निर्भरता को हमेशा के लिए समाप्त करने का संकल्प लिया और कहा कि वह चीन से कोरोना वायरस संक्रमण फैलने की बात को कभी नहीं भूलेंगे।

कोरोना से भारत में चीन से 23 गुना ज़्यादा हुई मौतें, अर्थशास्त्री ने सरकार को ऐसे दिखाया आईना

चीन पर भड़के ट्रंप
ट्रंप ने तीन नवंबर को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव के मद्देनजर न्यूपोर्ट वर्जीनिया में शुक्रवार को एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि अमेरिका की अर्थव्यवस्था की स्थिति मजबूत थी, 'तभी चीन से वायरस आ गया'। उन्होंने कहा, 'उन्हें ऐसा कभी नहीं होने देना चाहिए था। हम यह भूलेंगे नहीं। हमने (आर्थिक गतिविधियों को) बंद कर दिया और लाखों लोगों का जीवन बचाया। हमने अब इसे खोल दिया है।'

भारत-चीन विवाद पर बोले ट्रंप,कहा- उम्मीद है सुलझा लेंगे सीमा विवाद, दोहराई मदद की बात

2 लाख से अधिक अमेरिकियों ने गंवाई जान
अमेरिका इस संक्रमण से सबसे बुरी तरह प्रभावित हुआ है। इस वायरस के कारण दो लाख से अधिक अमेरिकियों की जान चली गई है और देश की अर्थव्यवस्था डगमगा गई है, जिसके कारण लाखों लोगों की नौकरियां चली गई हैं। ट्रंप ने कहा कि यदि वह आगामी चार वर्ष के लिए फिर सत्ता में आते हैं, तो वह अमेरिका को दुनिया में विनिर्माण की महाशक्ति बनाएंगे। उन्होंने कहा, 'हम चीन पर अपनी निर्भरता हमेशा के लिए समाप्त कर देंगे।'

कोरोना: डोनाल्ड ट्रंप का दावा, अंतिम चरण में पहुंची जॉनसन एंड जॉनसन की वैक्सीन

चीन के साथ संबंध पर ट्रंप ने क्या कहा?
ट्रंप ने कहा कि कोरोना वायरस के बाद चीन के साथ संबंध उनके लिए खास मायने नहीं रखते। उन्होंने चीन के प्रति गहरी निराशा जताई। उन्होंने कहा, 'मेरे चीन के राष्ट्रपति शी (चिनफिंग) के साथ बहुत अच्छे संबंध थे, लेकिन यह महामारी आ गई... हमने अच्छा व्यापार समझौता किया था, लेकिन मेरे लिए अब यह पहले की तरह नहीं है। क्या इसका अब कोई अर्थ है?' अमेरिका और चीन ने वर्ष की शुरुआत में एक व्यापार समझौते के पहले चरण पर हस्ताक्षर किए थे। ट्रंप ने चीन के साथ इस समझौते पर फिर से बातचीत करने से इनकार कर दिया है।

कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरों को यहां पढ़ें...

comments

.
.
.
.
.