Friday, Dec 09, 2022
-->
door to door campaign started for making golden card

गोल्डन कार्ड बनाने के लिए घर-घर मुनादी कर अभियान की हुई शुरुआत

  • Updated on 9/15/2022

नई दिल्ली,(टीम डिजिटल):दिल्ली से सटे नोएडा में वीरवार से प्रधानमंत्री जन आरोग्य (आयुष्मान) योजना के लाभार्थियों का गोल्डन कार्ड बनाने के लिए घर-घर मुनादी कर अभियान शुरुआत की गई। 37 जगह पर लगाए गए शिविरों में आए लाभार्थियों की आशा कार्यकर्ताओं ने फेस आथेंटिकेशन एप्लीकेशन के माध्यम से पहचान कर 100 से अधिक लोगों के मौके पर आयुष्मान गोल्डन कार्ड बनाएं। आशा कार्यकर्ताओं ने घर-घर जाकर योजना की भी जानकारी दी।

सीएमओ डा. सुनील कुमार शर्मा ने बताया कि जिले में 23 सितंबर को प्रधानमंत्री जन आरोग्य (आयुष्मान) योजना लागू हुए चार वर्ष पूर्ण हो जाएंगे। 30 सितंबर तक आयुष्मान पखवाड़ा के दौरान पात्र लाभार्थियों के शत प्रतिशत आयुष्मान कार्ड बनाने का प्रयास किया जाएगा। लाभार्थियों को योजना के बारे में बताया गया। पखवाड़े को मनाए जाने का उद्देश्य योजना के सभी लाभार्थियों में योजना के प्रति जागरुक करना है। योजना के तहत प्रतिवर्ष प्रति परिवार पांच लाख रुपये तक के निश्शुल्क उपचार की सुविधा मिलती।

अब तक 65,982 लोगों को बने गोल्डन कार्ड 
जिले में 35,955 परिवार योजना में शामिल हैं। इन परिवारों के 1 लाख 79 हजार 775 सदस्यों को योजना का लाभ मिलना है। योजना से 36 निजी व 12 सरकारी अस्पताल शामिल हैं। प्रदेश में गोल्डन कार्ड बनाने के मामले में जिले का 20 स्थान है। योजना के तहत 22,876 लोग योजना का इलाज करा चुके हैं। लक्ष्य के सापेक्ष 65,982 लोगों को गोल्डन कार्ड बनाए जा चुके हैं। गोल्डन कामन सर्विस सेंटर पर भी गोल्डन कार्ड बनवा सकते हैं।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.