Friday, Jan 21, 2022
-->
dr harsh vardhan meeting with delhi govt corona vaccination dry run kmbsnt

जानिए कल कोरोना वैक्सीनेशन के लिए दिल्ली में कहां-कहां होगा ड्राइ-रन

  • Updated on 1/1/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। नए साल के आगाज के साथ ही कोरोना को हराने के लिए सरकार की तैयारी भी तेज हो गई है। आज केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन (Dr Harsh Vardhan) ने दिल्ली सरकार (Delhi Govt) के साथ कल यानी 2 जनवरी को वैक्सीनेशन (Corona vaccination) के लिए होने वाले ड्राइ-रन (Dry-run) को लेकर एक समीक्षा बैठक की। इस बैठक में बताया गया कि COVID19 वैक्सीन के लिए ड्राई-रन दिल्ली के जीटीबी अस्पताल और दिल्ली के एक निजी अस्पताल में होगा। 

इस दौरा3न केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने कहा कि स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं की सूची बनाई गई है और COVID प्लेटफॉर्म पर अपलोड की जाएगी। जिस तरह हम चुनावों के दौरान तैयारी करते हैं, उसी तरह हमें सभी मेडिकल टीमों के प्रत्येक सदस्य को जिम्मेदारी से प्रशिक्षित करने की आवश्यकता है। 

CM केजरीवाल ने देशवासियों को दी नए साल की बधाई, कोरोना वारियर्स के लिए कही ये बात

700 से अधिक जिलों में चल रही ट्रेनिंग
डॉ हर्षवर्धन ने कहा कि इस अभ्यास का लक्ष्य यह है कि न्यूनतम विवरणों पर गहन शोध किया जा सके। कम से कम 2 वैक्सीन कंपनियों ने ड्रग कंट्रोलर और विशेषज्ञों को अनुमोदन के लिए अपने आवेदन भेजे हैं, उनके डेटा का सक्रिय रूप से अध्ययन किया जा रहा है। राष्ट्रीय स्तर पर 2,000 से अधिक मास्टर ट्रेनरों के प्रशिक्षण के बाद, 700 से अधिक जिलों में राज्य और जिला स्तर पर प्रशिक्षण चल रहा है। प्रक्रिया चुनाव कराने के समान है जहां एक बूथ पर टीम को भी प्रशिक्षित किया जाता है।

फाइजर-बायोएनटेक द्वारा निर्मित टीका
वहीं डब्ल्यूएचओ ने गुरुवार को कहा कि कोविड-19 के टीके के आपात इस्तेमाल को मंजूरी दे दी। साथ ही कहा कि मंजूरी देने के उसके फैसले से देशों को अवसर मिलेगा कि वे टीके आयात करने तथा इन्हें लगाने संबंधी अपने नियामकों की मंजूरी प्रक्रिया को गति प्रदान कर सकें। उसने कहा कि फाइजर-बायोएनटेक द्वारा निर्मित टीका संगठन द्वारा तय किए गए सुरक्षा मानकों एवं अन्य मापदंडों पर खरा उतरा है। 

गौरतलब है कि इस टीके को अमेरिका, ब्रिटेन, यूरोपीय संघ समेत अनेक देश मंजूरी दे चुके हैं। इस टीके को बहुत ही कम तापमान पर रखना होता है जो विकासशील देशों के लिए एक बड़ी चुनौती है।

Delhi Corona Bulletin: कंट्रोल हो रहा कोरोना! 24 घंटे में 600 से कम केस

मंजूरी के लिए डीसीजीआई के समक्ष आवेदन
बता दें कि हाल ही में दवा निर्माता कंपनी फाइजर की भारतीय इकाई ने उसके द्वारा विकसित कोविड-19 टीके के आपातकालीन इस्तेमाल की औपचारिक मंजूरी के लिए भारतीय औषधि महानियंत्रक (डीसीजीआई) के समक्ष आवेदन किया है। फाइजर ने उसके कोविड-19 टीके को ब्रिटेन और बहरीन में ऐसी ही मंजूरी मिलने के बाद यह अनुरोध किया है।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि दवा नियामक को दायर किए गए अपने आवेदन में कंपनी ने देश में टीके के आयात एवं वितरण के संबंध में मंजूरी दिये जाने का अनुरोध किया है। इसके अलावा, दवा एवं क्लीनिकल परीक्षण नियम, 2019 के विशेष प्रावधानों के तहत भारत की आबादी पर क्लीनिकल परीक्षण की छूट दिए जाने का भी अनुरोध किया है।

ये भी पढ़ें-

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.