Tuesday, Dec 07, 2021
-->
drdo-anti-drone-was-deployed-under-pm-modi-security-at-red-fort-sohsnt

लाल किले पर PM मोदी की सुरक्षा में तैनात था DRDO का एंटी ड्रोन सिस्टम, जानें क्या है इसकी खासियत

  • Updated on 8/15/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। देशभर में आज 74वां स्वतंत्रता दिवस मनया रहा है। इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को लाल किले की प्राचीर से संबोधित किया। इस दौरान पीएम मोदी की सुरक्षा में रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन द्वारा विकसित अत्याधुनिक एंटी ड्रोन सिस्टम को लाल किले के पास तैनात किया गया। 

UP में राज्यपाल आनंदी बेन पटेल के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया ध्वजारोहण

ढाई किलोमीटर के दायरे में ड्रोन को आने से रोकता है
डीआरडीओ द्वारा विकसित ये एंटी ड्रोन छोटे से छोटे ड्रोन को तीन किलोमीटर के दायरे में आने से रोकता है। इसके साथ ही एक से ढाई किलोमीटर के दायरे में उसे लेजर की सहायता से मार गिराने में सक्षम है। वहीं दूसरी ओर इस कार्यक्रम में सुरक्षा के मद्देनजर राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड, विशेष सुरक्षा समूह और इंडो- तिब्बतन सीमा पुलिस के जवान मौजूद थे। हर जगह सोशल डिस्टेंसिंग का विशेष ध्यान रखा गया। 

स्वतंत्रता दिवस के भाषण में पीएम ने कहा- देश के 173 तटीय क्षेत्रों में होगा NCC का विस्तार

300 से ज्यादा कैमरों से की गई निगरानी

सुरक्षा पर विशेष ध्यान देते हुए यहां 300 से ज्यादा कैमरा लगाए गए और उनके फुटेज की निगरानी 24 घंटों की गई थी।इसके अलावा लाल किले में करीब 4 हजार पुलिसकर्मी तैनात थे। स्वतंत्रता दिवस के इस समारोह को ध्यान में रखते हुए रक्षा मंत्रालय ने पूरी तैयरियां कर रखीं थीं। समारोह में प्रवेश से पहले अलग- अलग एंट्री गेट पर मास्क और सेनेटाईजर की व्यवस्था की गई थी। कोरोना महामारी के चलते इस बार बहुत कम लोगों को ही बुलाया गया था।  

स्वतंत्रता दिवस: लड़कियों की शादी की उम्र जल्द बदलेगी, पीएम मोदी ने कहा सरकार कर रही है समीक्षा

पीएम ने लाल किले की प्रचीर से 7वीं बार देश को किया संबोधित
दरअसल, पीएम मोदी ने लाल किले की प्रचीर से 7वीं बार देश को संबोधित किया। अपने संबोधन के दौरान उन्होंने कहा, सभी स्वतंत्रता सेनानियों का, आजादी के वीर शहीदों को नमन करने का ये पर्व है। उन्होंने आगे कहा कि कोरोना के समय में कोरोना वॉरियर्स जैसे- डॉक्टर्स, नर्से, एंबुलेंस कर्मी, सफाई कर्मचारी इत्यादि लोगों को मैं आज नमन करता हूं। आजादी का पर्व हमारे लिए आजादी के वीरों को याद करके नए संकल्पों की ऊर्जा का एक अवसर होता है। ये हमारे लिए नई उमंग, उत्साह और प्रेरणा लेकर आता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.