Tuesday, Nov 12, 2019
due-to-increasing-price-of-onion-in-delhi-govt-will-sale-it-in-low-price-ration-shop

दिल्ली: अब राशन की दुकानों में बाजार से कम दामों पर मिलेगा प्याज

  • Updated on 9/12/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। अब राजधानी दिल्ली (Delhi) में प्याज (Onion) राशन की दुकानों (Ration Shop) में बाजार से कम कीमतों पर मिलेगा। केंद्र ने दिल्ली सरकार (Delhi Government) से बफर स्टॉक से प्याज लेकर उसे नागरिक आपूर्ती विभाग और राशन की दुकानों के जरिए 23.90 रुपये किलो के भाव पर बेचने को कहा है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में प्याज के ऊंचे दाम को देखते हुए केंद्र ने यह कदम उठाया है। 

केंद्र सरकार (Central Government) के आंकड़ों के अनुसार प्याज का भाव दिल्ली और आसपास के क्षेत्रों में 39-40 रुपये किलो है। शहर में कुछ खुदरा विक्रेता गुणवत्ता और स्थान विशेष के आधार पर इसे 50 रुपये किलो के भाव पर बेच रहे हैं। सरकार के निर्देश पर भारतीय राष्ट्रीय कृषि सहकारी विपणन संघ (नाफेड) और भारतीय राष्ट्रीय उपभोक्ता सहकारी संघ (एनसीसीएफ) के साथ-साथ मदर डेयरी बफर स्टॉक से प्याज लेकर उसे राष्ट्रीय राजधानी में बेच रहे हैं। 

प्याज कीमत को कम रखने के लिए सरकार 50,000 टन का बफर स्टॉक बना रही है

मदर डेयरी में प्याज 23.90 रुपये किलो
मदर डेयरी सफल दुकानों के जरिए प्याज 23.90 रुपये किलो के भाव पर बेच रही है। उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि हमने दिल्ली सरकार से केंद्रीय बफर स्टॉक से प्याज नागरिक आपूर्ती विभाग और राशन की दुकानों के जरिए बेचने का आग्रह किया है। 

किसान को मिली प्याज की 51 पैसे प्रति किलोग्राम कीमत, CM को भेजी रकम

केंद्र से खरीद 15-16 रुपये किलो
अधिकारी ने कहा कि राज्य द्वारा अधिकतम 23.90 रुपये प्रति किलो के भाव पर प्याज बेचा जा रहा है। केंद्र से प्याज का स्टॉक 15 से 16 रुपये प्रति किलोग्राम पड़ रहा है। दिल्ली में प्रतिदिन 350 टन प्याज की जरूरत है, जबकि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र यानी एनसीआर की जरूरत प्रतिदिन 650 टन प्याज की है।  

फसल में कमी के आसार, रुला सकते हैं प्याज के दाम

इस कारण आई प्याज के दामों में तेजी
केंद्र ने इस साल 56,000 टन प्याज का बफर स्टाक बनाया है। इसमें से 10,000-12,000 टन नाफेड, एनसीसीएफ और मदर डेयरी ने अब तक बेचा है। खरीफ उत्पादन कम होने के कारण प्याज की कीमतों पर दबाव बना हुआ है। उत्पादक राज्यों विशेषकर महाराष्ट्र में खेती के रकबे में 10 प्रतिशत की गिरावट के कारण प्याज के दामों में तेजी आई है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.