Wednesday, Jul 06, 2022
-->
during-the-investigation-3-doctors-turned-out-to-be-untestable

जांच के दौरान जांच करने योग्य नहीं निकले 3 डॉक्टर, फर्जी डिग्री से चल रहा था इलाज, मुकद्दमा दर्ज

  • Updated on 5/17/2022

नई दिल्ली/टीम डिजीटल। गाजियाबाद स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सकों ने लोनी में डॉक्टरों के क्लीनिकों का निरीक्षण किया था। इस दौरान डॉक्टर तीन फर्जी पाए गए। स्वास्थ्य विभाग ने तीनों डॉक्टरों के खिलाफ लोनी थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है। विभाग निरीक्षण के बाद तीनों को नोटिस देकर डिग्री दिखाने के लिए कहा था। नोडल अधिकारी डॉ. जीपी मथूरिया ने बताया कि लोनी में लगातार फर्जी डॉक्टरों द्वारा क्लीनिक चलाने की शिकायतें मिल रही थी। शिकायत मिलने पर उन्होंने लोनी के अशोक विहार कॉलोनी का निरीक्षण किया। 

निरीक्षण के दौरान कॉलोनी के तीन चिकित्सकों डॉ. शाहनवाज(डेंटल क्लीनिक), डॉ. इरफान और डॉ. जावेद खान(खान क्लीनिक) के पास डिग्री नहीं मिली थी। तीनों डॉक्टरों को नोटिस देकर व्यवसाय करने से संबंधित डिग्री, प्रमाण पत्र गाजियाबाद चिकित्सा कार्यालय में दिखाने को कहा गया था। लेकिन वह दिखा नहीं पाए। इससे प्रतीत हुआ की तीन फर्जी चिकित्सक अवैध रुप से चिकित्सा की प्रैक्टिस कर रहे है। इन चिकित्सकों के खिलाफ इंडियन मेडिकल काउंसिल एक्ट-1956 की धारा-15(2) समेत अन्य धारा के तहत पुलिस को तहरीर दी थी। नोडल अधिकारी ने बताया कि लोनी की अन्य कॉलोनियों में अभियान चलाकर जल्द सभी फर्जी चिकित्सकों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। लोनी कोतवाली एसएचओ अजय चौधरी ने बताया कि तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज किया गया। पुलिस आगे की कार्रवाई कर रही हैं। सभी फर्जी चिकित्सक फरार है। फर्जी चिकित्सकों की गिरफ्तारी के बाद वह कितने पढ़े लिखे है, यह पता चलेगा।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.