Friday, Dec 13, 2019
dussehra celebration delhi dwarka pm narendra modi president ramnath kovind

दिल्ली के द्वारका में बोले PM मोदी- भारत उत्सवों की भूमि

  • Updated on 10/8/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ram Nath Kovind) आज दिल्ली (Delhi) के द्वारका (Dwarka) में दशहरे (Dussehra) का त्योहार मनाएंगे। इसके लिए द्वारका श्रीरामलीला सोसाइटी द्वारा खास तैयारियां की गई हैं।

Live Updates:
 

-देश में उत्सव ही संस्कार, शिक्षा और सामूहिक जीवन का प्रशिक्षण देते हैं: पीएम मोदी

भारत उत्सवों की भूमिः PM मोदी

द्वारका में रावण दहन के लिए पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 

आज पूरा देश बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रमाण देने वाला त्योहार दशहरा मना रहा है। मान्यता है कि आज के दिन भगवान श्री राम ने रावण संहार कर बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रमाण दिया था। आज के दिन रावण का पुतला दहन कर इस त्योहार को मनाया जाता है। 

प्रधानमंत्री मोदी समेत इन नेताओं ने देशवासियों को दी विजयादशमी की शुभकामनाएं

साल 2014-18 तक इन स्थानों पर पीएम ने मनाया दशहरा
पीएम मोदी हर साल अलग-अलग स्थानों पर दशहरे का त्योहर मनाते हैं। साल 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रामलीला मैदान पर इस त्योहर को मनाया था। वहीं साल 2015 में वो तिरुपति गए थे। 2016 में उन्होंने लखनऊ में दशहरे का त्योहार मनाया था। साल 2017 और 2018 में पीएम मोदी दिल्ली के रामलीला मैदान में रावण दहन में शामिल हुए थे। 

Dussehra 2019: दशहरे के दिन इस शुभ मुहूर्त में करें पूजा, मिलेंगे यह फल

सुबह ट्वीट कर इन नेताओं ने दी दशहरे की बधाई
आज सुबह ट्वीट कर पहले ही प्रधानमंत्री देशवासियों को दशहरे की बधाई दे चुके हैं। इसके साथ ही देश के कई बड़े नेताओं ने सभी देशवासियों को दशहरे की बधाई दी है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी देशवासियों को दशहरे की बधाई दी है। वहीं राहुल गांधी ने भी ट्वीट कर देशवासियों को दशहरे की बधाई देते हुए लिखा है कि बुराई पर अच्छाई की जीत सबसे बड़ा सत्य है। आज हम इस पर्व को मनाते हैं और इस सत्य को स्थापित करते हैं। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.