Wednesday, Feb 19, 2020
east delhi, dda, amit shah, lg, anil baijal, hardeep singh puri

केजरीवाल पर बरसे अमित शाह, कहा- टुकड़े- टुकड़े गैंग दिल्ली में अशांति के लिए जिम्मेदार

  • Updated on 12/26/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। देश की राजधानी दिल्ली(Delhi) में डीडीए (DDA) हब का उद्घाटन करते हुए, केद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल(Chief Minister Arvind Kejriwal) पर आरोप लगाते हुए कहा कि “दिल्ली में ऐसी सरकार है , जो दूसरे के कामों पर अपना ठप्पा लगा देते हैं, कल एक ऐड देखा जिसमें केजरीवाल ये कह रहे हैं- हर घर को जल मिलेगा, लेकिन केजरीवाल साहब ये भूल गए है कि सपना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने 15 अगस्त को दिखया था”। नागरिकता संशोधन बिल के विरोध में दिल्ली में हुई हिंसा को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधता हुए अमित शाह ने कहा- कांग्रेस के नेतृत्व में टुकड़े- टुकड़े गैंग दिल्ली में अशांति के लिए जिम्मेदार है।

सीएए पर कांग्रेस नीत विपक्ष ने भ्रम फैलाया

अमित शाह ने विपक्ष पर संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) पर भ्रम फैलाने और जनता को गुमराह कर राष्ट्रीय राजधानी में शांति का माहौल बिगाड़ने का आरोप लगाया। दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए) द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में शाह ने कहा कि दिल्ली में केजरीवाल सरकार का समय समाप्त हो गया है और राष्ट्रीय राजधानी में अगली सरकार भाजपा बनाएगी। सीएए के विरोध में हुए प्रदर्शनों पर शाह ने कहा, ‘कांग्रेस नीत विपक्ष ने संशोधित नागरिकता कानून पर भ्रम फैलाया। सीएए पर लोगों को गुमराह करके विपक्ष ने दिल्ली के शांतिपूर्ण माहौल को बिगाड़ दिया।’ 

NPR को लेकर मोदी सरकार ने शुरु की तैयारी, पूछे जाएंगे ये प्रमुख सवाल

कड़कडडूमा में 100 मंजिला इमारत बनाने का प्रस्ताव
उनके साथ एलजी (LG) अनिल बैजल (Anil Baijal) व केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) भी मौजूद रहेंगे। हालांकि प्रोजेक्ट को एनबीसीसी के साथ मिलकर मार्च 2015 में लांच किया गया था। लेकिन मिट्टी परीक्षण में कुछ गड़बड़ी सामने के कारण इस परियोजना पर करीब चार वर्ष के उपरांत एक बार फिर से केंद्र सरकार सजग हुई है।

दरअसल ईस्ट दिल्ली हब के रूप में कड़कडड़ूमा (Karkardooma) में 100 मंजिला इमारत बनाने का प्रस्ताव है। करीब 25 हजार से अधिक लोगों को कार्यालय से लेकर मनोरंजन के लिए यातायात साधनों के रूप में सार्वजनिक वाहन का प्रयोग करने के लिए प्रेरित करने की दिशा में ईस्ट दिल्ली (East Delhi) हब खासा महत्वपूर्ण साबित होगा।

PK की चुनावी रणनीति: ओबामा और मोदी की तरह केजरीवाल करेंगे टाउन हॉल मीटिंग

लगभग 70 हजार से अधिक लोगों को रोजगार
इसके साथ ही रिहायशी कॉलोनी भी विकसित होगी। मिश्रित भू उपयोग वाली इस जमीन पर दिल्ली एनसीआर की सबसे ऊंची इमारत इस परियोजना का महत्वपूर्ण हिस्सा होगी। साथ ही यहां लगभग 70 हजार से अधिक लोगों को रोजगार, कार्य करने के लिए बेहतर स्थल, मनोरंजन व शॉपिंग आदि के लिए बेहतर स्थल बनाने की भी योजना है।

600 यूनिट फ्री बिजली के वादे पर केजरीवाल का कांग्रेस पर तंज- जहां सरकार है पहले वहां दो सुविधा

मिट्टी परीक्षण रिपोर्ट के आधार पर इमारत की ऊंचाई को किया कम
बताया जाता है कि मिट्टी परीक्षण रिपोर्ट के आधार पर इमारत की ऊंचाई को कम कर दिया गया है। टीओडी भी होगा विकसित: सूत्रों के अनुसार ईस्ट दिल्ली हब को विकसित करने के साथ ही टीओडी (ट्रांजिट ओरिऐंटेड डेवलपमेंट कॉरिडोर) को भी तेजी से पूरा किया जाएगा। टीओडी में लोगों को आवास से महज पांच सौ मीटर की दूरी पर ही सार्वजनिक वाहन सुविधा सुलभ होता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.