Monday, Jan 20, 2020
ed questioned trinamool leader kunal ghosh suspended in saradha case

ईडी ने सारदा मामले में निलंबित तृणमूल नेता कुणाल घोष से पूछताछ की

  • Updated on 7/17/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल।  करोड़ों रुपयों के सारदा चिट फण्ड घोटाले (saradha-case) के धन शोधन पहलू की जांच कर रहे प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बुधवार को तृणमूल कांग्रेस के निलंबित नेता कुणाल घोष (Kunal Ghosh) से दूसरी बार पूछताछ की।  
बंगाल ने पोषण अभियान अपनाने से इंकार कर दिया : स्मृति ईरानी 

सीजीओ कॉप्लेक्स स्थित एजेंसी कार्यालय पर यहां आने वाले घोष से करीब दो घंटे तक पूछताछ की। ईडी (ED) सूत्रों ने  हमसे कहा कि तृणमूल कांग्रेस के पूर्व सांसद घोष को सारदा समूह से उसकी मीडिया इकाई का नेतृत्व करने के लिए कथित रूप से धन मिला था। सूत्रों ने कहा, ‘‘हम धन शोधन कोण तथा उस धन की जांच कर रहे हैं जो घोष को सारदा समूह से कथित रूप से मिला था।’’      
#RBI की अधिशेष पूंजी पर जालान समिति ने रिपोर्ट को दिया अंतिम रूप

एजेंसी ने इससे पहले घोष से अक्टूबर 2013 में इस मामले में पूछताछ की थी। सारदा समूह ‘बंगाल पोस्ट’ और ‘सकालबेला’ अखबारों की मालिकाना कंपनी है। अप्रैल 2013 में इस घोटाले का खुलासा होने के बाद अखबारों का प्रकाशन बंद कर दिया गया था।  बिधाननगर पुलिस आयुक्त के विशेष जांच दल ने घोष को सबसे पहले नवंबर 2013 में इस मामले के संबंध में गिरफ्तार किया था। बाद में, सीबीआई (CBI) ने उच्चतम न्यायालय के आदेश पर जांच का जिम्मा संभाला था। घोष को 2016 को अंतरिम जमानत दी गई थी। 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.