Tuesday, Sep 28, 2021
-->
ed raids premises of punjab mla khaira and others in money laundering case pragnt

ED का पंजाब के विधायक सुखपाल सिंह खैरा के घर छापा, मनी लॉन्ड्रिंग का है आरोप

  • Updated on 3/9/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। प्रवर्तन निदेशालय ने मादक पदार्थों की तस्करी और कथित तौर पर एक फर्जी पासपोर्ट तैयार करने, और मादक द्रव्यों की तस्करी से जुड़े धनशोधन के मामले में पंजाब के विधायक सुखपाल सिंह खैरा और कुछ अन्य के परिसरों पर छापेमारी की।

West Begnal Election 2021: जानें TMC के चाणक्य मुकुल रॉय ने बंगाल में कैसे संभाला बीजेपी का मोर्चा?

पंजाब एकता पार्टी के विधायक हैं खेरा
अधिकारियों ने बताया कि खैरा के चंडीगढ़ स्थित आवास, हरियाणा एवं पंजाब में पांच अन्य स्थानों और दिल्ली में दो जगहों पर तलाशी ली जा रही है। खैरा (56) पंजाब एकता पार्टी के विधायक हैं। पार्टी 2019 में बनी थी। वह कपूरथला जिले में भोलाथ से विधायक हैं। खैरा 2017 में आम आदमी पार्टी (आप) के टिकट पर राज्य विधानसभा के लिए निर्वाचित हुए थे।

बंगाल चुनाव 2021: अब सिंगुर आंदोलन के साथी ने भी छोड़ा CM ममता का साथ, थामा भाजपा का हाथ

मनी लॉन्ड्रिंग का है आरोप
प्रवर्तन निदेशालय में सूत्रों ने बताया कि धन शोधन रोकथाम कानून (पीएमएलए) के प्रावधानों के तहत खैरा एवं अन्य के खिलाफ यह कार्रवाई की गयी और इसका मकसद जांच को आगे बढ़ाने के लिए और साक्ष्य जमा करना है। उन्होंने बताया कि मादक पदार्थ की कथित तस्करी और फर्जी पासपोर्ट मामले के संबंध में पीएमएलए की जांच की जा रही है। इस मामले में कुछ आरोपी जेल में हैं। 

महिला किसानों ने महिला दिवस के मौके पर प्रदर्शन स्थलों पर संभाला मोर्चा

आंदोलन के बीच पंजाब सरकार का बड़ा दांव
गौरतलब है कि राजधानी की सीमाओं पर चल रहे किसान आंदोलन के बीच सरकार ने किसानों को एक तोफा दिया है। दिल्ली की सीमाओं पर किसानों का आदोलन जोरो पर है इसी बीच पंजाब की कांग्रेस सरकार ने कई अन्नदाताओं को लेकर बड़ा फैसला लिया है। जिसमें राज्य सरकार 1.13 किसानों के 1,186 करोड़ रुपये के कर्जों को माफ कर रही है। जिसका ऐलान भी किया जा चुका है। पंजाब सरकार ने बजट में किसानों को 7,180 करोड़ रुपये की ऊर्जा सब्सिडी देने का भी ऐलान किया।

पंजाब विधानसभा की कमेटी करेगी तिहाड़ जेल में सिख युवकों की ‘प्रताड़ना’ की जांच

राज्य सरकार ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए बजट पेश किया
दरअसल राज्य सरकार ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए बजट पेश किया है जिसमें वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल ने अन्नदाताओं को लेकर बड़ा ऐलान किया, इसके अलावा पंजाब की कैप्टन अमरिंदर सरकार ने भूमिहीन किसानों को भी बड़ी राहत दी है और किसानों के लिए 526 करोड़ रुपये के लोन माफ करने का फैसला लिया है। पंजाब सरकार ने किसानों के लिए 'कामयाब किसान, खुशहाल पंजाब' स्कीम की शुरुआत की है। जिसके तहत फाजिल्का में सब्जियों के लिए उत्कृष्टता समेत कई अन्य सुविधाएं दी जाएंगी। 

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें... 

comments

.
.
.
.
.