Wednesday, Oct 20, 2021
-->
ed-sent-notice-to-aap-there-is-a-case-of-taking-funds-from-fake-companies

ED ने AAP को भेजा नोटिस, फर्जी कंपनियों से फंड लेने का है मामला

  • Updated on 9/13/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। दिल्ली की आम आदमी पार्टी को प्रवर्तन निदेशालय ने नोटिस भेजा है। ऐसे में एक बार फिर दिल्ली सरकार और केंद्र के बीच राजनीतिक जंग शुरू हो सकता है। दरअसल आम आदमी पार्टी को चार कंपनियों के जरिए चंदा देने का मामला है जो कि 2014 का है और ये कंपनियां फर्जी बताई जा रही है। दरअसल आरओसी ने चार कंपनियों के जरिए आम आदमी पार्टी को 2 करोड़ रुपये मिलने की शिकायत की थी। जिसमें पता चला कि ये पैसे देहरादून की एक कंपनी ने शैल कंपनियों के जरिए दिया था। 

बता दें कि इम मामले में आप पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ पूरी पार्टी नाराज बताई जा रही है। ईडी के नोटिश पर आम आदमी पार्टी के विधायक राघव चड्ढा का कहना है कि मोदी सरकार की फेवरेट एजेंसी प्रवर्तन निदेशालय की तरफ से आम आदमी पार्टी को खत मिला है। 

पेगासस मामले में केंद्र ने SC से कहा- उसके पास छुपाने के लिए कुछ भी नहीं

पराली को गलाने में बायो-डिकम्पोजर
बता दें कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि पराली को गलाने में बायो-डिकम्पोजर प्रभावी साबित हुई है। दिल्ली के किसान इससे बेहद ख़ुश हैं। इसके साथ ही उन्होंने पड़ोसी राज्यों को भी इसे अपनाने की सलाह दी है। सीएम केजरीवाल ने कहा दिल्ली ने पराली का हल ढूंढ लिया है। इसका हल बायो-डिकम्पोजर से मिला है। दिल्ली सरकार ने बायो-डिकम्पोजर को प्रभावी ढंग से  लागू किया है। दिल्ली के 39 गांवों में इसे लागू किया गया। किसान खुश हैं। इसमें प्रक्रिया यह है कि धान की फसल काट लेन के बाद जो पराली बचती है इसे रसायन द्वारा खेत में ही गला दिया जाता है। यह ऐसा रसायन है जो खेत को नुकसान नहीं पहुंचाता है। 

केंद्र सरकार की एक एजेंसी से ही इसका थर्ड पार्टी ऑडिट कराया है और इसकी रिपोर्ट आ गई है। केंद्र सरकार की एजेंसी ने भी इसे ठीक पाया है। इस एजेंसी ने गांव-गांव जाकर किसानों से बात की है। पहले औद्योगिक कार्बन बढ़ रहा था, जो कम हुआ है। मिट्टी की गुणवत्ता में सुधार हुआ है। लगभग आधे किसानों ने माना है कि इसके उपयोग से पैदावार बढ़ी है। हम पड़ोसी राज्यों से अपील करते हैं कि वे भी इसे लागू करें। केंद्र सरकार भी इस बारे में कदम उठाए। रिपोर्ट लेकर हम जल्द ही केंद्रीय पर्यावरण मंत्री से मिलेंगे।

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.