Tuesday, Jul 23, 2019

रद्द हो सकती है सनी देओल की सदस्यता! आयोग को मिले चुनाव में तय सीमा से अधिक खर्च के सबूत

  • Updated on 7/7/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। निर्वाचन आयोग (Election Commission) को पंजाब (Punjab) के गुरदासपुर (Gurdaspur) से भारतीय जनता पार्टी (BJP) के सांसद और बॉलीवुड अभिनेता सनी देओल (Sunny Deol) के खिलाफ चुनाव में तय सीमा से अधिक पैसे खर्च करने के सबूत मिले हैं। पंजाब के मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने इस बाबत तमाम दस्तावेज निर्वाचन आयोग को भेजे हैं।

मामले में निर्वाचन आयोग की कार्रवाई से सनी देओल की मुश्किलें बढ़ती दिख रही हैं। आयोग अब इस शिकायत पर सनी देओल से पूछताछ करेगा। हालांकि, सनी देओल चाहें तो इसे चुनौती भी दे सकते हैं।

सभी मोर्चा के पदाधिकारियों के साथ BJP की बैठक आज, अमित शाह और जेपी नड्डा हो सकते हैं मौजूद

86 लाख रुपये से ज्यादा खर्च करने का आरोप

बता दें कि निर्वाचन आयोग ने लोकसभा के उम्मीदवार के लिए कुल खर्च की सीमा 70 लाख रुपये तय की थी। सूत्रों की मानें तो देओल पर 86 लाख रुपये से ज्यादा खर्च करने का आरोप है। इस संबंध में आयोग को कुछ दस्तावेज भी मिले हैं।

महाराष्ट्र: #TiwareDam हादसे में 19 लोगों के शव बरामद, 4 लोग अब भी लापता

रद्द हो सकती है सदस्यता

आयोग की नियमावली के अनुसार यदि कोई उम्मीदवार ज्यादा पैसे खर्च कर जीत जाता है और बाद में खर्च सीमा के उल्लंघन की पुष्टि होती है तो, आयोग कार्रवाई करते हुए जीते उम्मीदवार की सदस्यता रद्द कर देता है। इसके साथ ही दूसरे नंबर पर रहे कैंडिडेट को विजेता घोषित तक कर सकता है। यानी चुनाव आयोग को विजयी उम्मीदवार को बदलने का भी अधिकार है। 

कर्नाटक: बिगड़ा कुमारस्वामी का गणित, इस्तीफा देकर मुंबई के होटल में रुके 10 विधायक

गुरप्रीत सिंह पलहेरी को बनाया सहायक

बता दें कि सनी देओल हाल ही मेंपटकथा लेखक गुरप्रीत सिंह पलहेरी को अपना सहायक नियुक्त किया। इस फैसले को बीजेपी सही नहीं मान रही है। देओल ने घोषणा की है कि पलहेरी उनकी तरफ से उनके निर्वाचन क्षेत्र के मामले को देखेंगे। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.