Saturday, Mar 23, 2019

हिमाचल में डीजल बसों की जगह लेंगी इलेक्ट्रिक बसें, इन शहरों में होगी सुविधा

  • Updated on 2/25/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। हिमाचल प्रदेश सरकार लगातार राज्य में प्रदूषण पर काबू पाने के लिए कोई न कोई कदम उठा रही है। हाल ही में रोहतांग में इलेक्ट्रिक बसें चलाई गई हैं जबकि शिमला में इसका ट्रायल चल रहा है।

राज्य सरकार इसी दिशा में कदम बढ़ाते हुए फैसला किया है कि बहुत जल्द ऐसी और भी बसें प्रदेश के कई शहरों में चलाई जाएंगी ताकि प्रदुषण को बढ़ने से रोका जा सके। सरकार के इस फैसले में परिवहन निगम का भी पूरा साथ मिल रहा है।

रेल यात्री अब ऑनलाइन देख सकेंगे रसोइयों में पकाये जाने वाले खाने की गुणवत्ता

परिवहन निगम राज्य के 54 शहरों में इलेक्ट्रिक बस की सेवा शुरु करने वाला है इसके अभी फिलहाल 50 बसों का ऑर्डर भी दे दिया गया है। जल्द ही इनकी संख्या में और इजाफा किया जाएगा। इन 50 बसों में से 30 शिमला में जबकि 20 बसें अभी धर्मशाला में चलाई जाएंगी। 

परिवहन निगम का कहना है कि ये सभी बसें 31 मार्च तक बेड़े में शामिल हो जाएंगी और उसके बाद इन्हें आम जनता के लिए सड़कों पर उतारा जाएगा। इन बसों का ऑर्डर फाइनल हो गया है। वहीं दूसरे फेज में इलेक्ट्रिक बसें चलाने के लिए सरकार 4 से 5 शहरों को शामिल करेगी।

मोदी ने सफाईकर्मियों के धोए पैर, खिसक सकता है BSP का दलित वोट बैंक

शहरों से बाहर जाने वाली सभी बसों को ग्रामीण रुट पर चलाया जाएगा अभी इन रुटों पर बसों का काफी आभाव है जिस वजह से वहां के ग्रमीणों को काफी परेशानी होती है। परिवन विभाग का मानना है कि इलेक्ट्रिक बसों के आ जाने से डीजल वाली बसें बाहर हो जाएंगी जिनका इस्तेमाल ग्रामीण इलाकों में किया जा सकता है।

परिवहन विभाग का ऐसा भी मानना है कि शहरों में बसों की डिमांड को देखते हुए यहां साच सीटर वाली बसें भी चलाई जा सकती हैं। परिवहन मंत्री गोविंद ठाकुर ने बताया कि धीरे-धीरे हिमाचल के शहरों से सभी डीजल बसों को हटा दिया जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.