Monday, Nov 30, 2020

Live Updates: Unlock 6- Day 30

Last Updated: Mon Nov 30 2020 08:39 AM

corona virus

Total Cases

9,432,075

Recovered

8,846,313

Deaths

137,177

  • INDIA9,432,075
  • MAHARASTRA1,820,059
  • ANDHRA PRADESH1,648,665
  • KARNATAKA882,608
  • TAMIL NADU779,046
  • KERALA599,601
  • NEW DELHI566,648
  • UTTAR PRADESH541,873
  • WEST BENGAL526,780
  • ARUNACHAL PRADESH325,396
  • ODISHA317,789
  • TELANGANA268,418
  • RAJASTHAN262,805
  • CHHATTISGARH234,725
  • BIHAR234,553
  • HARYANA230,713
  • ASSAM212,483
  • GUJARAT206,714
  • MADHYA PRADESH203,231
  • CHANDIGARH183,588
  • PUNJAB150,805
  • JAMMU & KASHMIR109,383
  • JHARKHAND104,940
  • UTTARAKHAND73,951
  • GOA45,389
  • HIMACHAL PRADESH38,977
  • PUDUCHERRY36,000
  • TRIPURA32,412
  • MANIPUR23,018
  • MEGHALAYA11,269
  • NAGALAND10,674
  • LADAKH7,866
  • SIKKIM4,967
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS4,631
  • MIZORAM3,806
  • DADRA AND NAGAR HAVELI3,325
  • DAMAN AND DIU1,381
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
elgar parishad case national investigation agency summons varvara rao sons in laws  rkdsnt

एल्गार परिषद मामला : NIA ने अब वरवरा राव के दामादों को किया गया तलब

  • Updated on 9/8/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। एल्गार परिषद मामले (Elgar Parishad case) में गिरफ्तार किये गये तेलुगू कवि और लेखक वरवरा राव (Varavara Rao) के दो दामादों ने सोमवार को कहा कि एनआईए (NIA) ने उन्हें नोटिस भेजकर एजेंसी के समक्ष पेश होने के लिए कहा है। शहर स्थित ‘इंग्लिश एंड फॉरिन लैंग्वेजिज यूनिर्विसटी’ (ईएफएलयू) के प्रोफेसर के. सत्यनारायण और एक अंग्रेजी अखबार में पत्रकार उनके दूसरे दामाद ने कहा कि उन्हें राष्ट्रीय जांच एजेंसी, मुंबई से नोटिस मिले हैं जिनमें उन्हें नौ सितंबर को उसके समक्ष गवाहों के तौर पर प्रस्तुत होने को कहा गया है। 

‘मोदीनॉमिक्स’ नाकाम रही, मनमोहन सिंह की बात धैर्य से सुनें पीएम मोदी : कांग्रेस

सत्यनारायण ने कहा कि उनका इस मामले से कोई लेना-देना नहीं है। महाराष्ट्र पुलिस ने अगस्त, 2018 में यहां प्रोफेसर के घर पर छापे मारे थे। महाराष्ट्र पुलिस ने एल्गार परिषद-माओवादियों के संपर्क के मामले में वरवरा राव और नौ अन्य कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया था। शुरुआत में पुणे पुलिस ने मामले की जांच की थी और बाद में इस साल जनवरी में इसे एनआईए को हस्तांतरित कर दिया गया। 

कमला हैरिस बोलीं- मेरी मां भी कहतीं हैं डोनाल्ड ट्रम्प को हराओ

मामला 31 दिसंबर, 2017 को पुणे में एल्गार परिषद कॉन्क्लेव में दिये गये कथित भड़काऊ भाषणों से जुड़ा है। पुलिस का दावा है कि इन भाषणों के बाद अगले दिन कोरेगांव भीमा स्मारक के पास हिंसा भड़क उठी थी। एनआईए के नोटिसों में प्रोफेसर और पत्रकार से गवाह के तौर पर पेश होकर मामले से संबंधित कुछ प्रश्नों के उत्तर देने के लिए कहा गया है। सत्यनारायण ने एक बयान में कहा, ‘‘यह सच है कि मैं वरवरा राव का रिश्तेदार हूं लेकिन मैं यह बात दोहराता हूं कि मामले से मेरा कोई लेना-देना नहीं है।’’ 

दिल्ली मेट्रो के साथ लखनऊ मेट्रो भी शुरु, यात्रियों में उत्साह

उन्होंने कहा, ‘‘एनआईए का नोटिस ऐसे समय में हमारे परिवार के लिए परेशानी बढ़ाने वाला है जब वरवरा राव की सेहत बहुत अच्छी नहीं है और मुंबई में कोविड-19 महामारी तेजी से बढ़ रही है। मुझे इस संकट के समय मुंबई तलब किया गया है।’’ पुणे पुलिस ने यह दावा भी किया था कि माओवादियों से कथित रूप से संपर्क रखने वाले लोगों द्वारा सम्मेलन का आयोजन किया गया था। 

राजस्थान में ग्राम पंचायतों चुनाव का ऐलान, 4 चरणों में होगी वोटिंग

 

 

 

 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

सुशांत मौत मामले में CBI ने दर्ज की FIR, रिया के नाम का भी जिक्र

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.