Monday, Nov 29, 2021
-->
exclusive-interview-junglee-will-make-a-special-emotion-of-friends

Exclusive Interview: दोस्ती के एक खास जज्बात को महसूस कराएगी 'जंगली'

  • Updated on 3/28/2019
  • Author : National Desk

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। मार्शल आर्ट्स चैंपियन और एक्शन पैक फिल्मों से सुर्खियां बटोर चुके विद्युत जामवाल एक बार फिर एक्शन, एडवेंचर फिल्म ‘जंगली’ के साथ हाजिर हैं। अमरीकी फिल्ममेकर चक रसेल की ये फिल्म आपको एक ऐसी दुनिया में ले जाएगी जिसे देख आपके लिए दोस्ती के मायने ही बदल जाएंगे।

इस फिल्म में विद्युत और उसके बचपन के दोस्त भोला-एक हाथी की कहानी है, जिसमें उनके साथ पूजा सावंत और आशा भट्ट भी लीड रोल में हैं। इसी शुक्रवार रिलीज हो रही इस फिल्म का निर्माण विनीत जैन ने किया है।

हॉलीवुड से बॉलीवुड आकर अपनी पहली हिंदी फिल्म बनाने वाले डायरेक्टर चक रसेल और अभिनेता विद्युत जामवाल ने पंजाब केसरी/नवोदय टाइम्स/ जगबाणी/ हिंद समाचार से खास बातचीत की।

इस फिल्म का हिस्सा बनना खुशी की बात : विद्युत जामवाल

फिल्में सिर्फ प्यार और दोस्ती पर ही बनती है। ये फिल्म एक जानवर और एक इंसान की दोस्ती की कहानी है और दोस्ती भी एक तरह का प्यार ही होता है। जब अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पोचिंग जैसा मुद्दा गरमाया हुआ है उस समय ये फिल्म आ रही है, मैं खुश हूं कि मैं इस फिल्म का हिस्सा हूं।

Exclusive Interview: मोदी को जिसे हराना है वह करेगा मेरा समर्थन - चंद्रशेखर

VFX का बहुत कम इस्तेमाल

इस फिल्म में जितने भी जानवर हैं वो सब असली हैं। VFX का इस फिल्म में बहुत ही कम इस्तेमाल किया गया है। क्योंकि हम जानवरों के साथ शूटिंग कर रहे थे इसलिए उनके मूड को देखते हुए हमें दिन में ही शूट करना पड़ता था। और VFX से हम दिन को रात कर देते थे।

एक्शन सीन के लिए करनी पड़ी कड़ी मेहनत

फिल्म में एक्शन करने के लिए बहुत मेहनत करनी पड़ती है। इस फिल्म में हमने एनिमल फ्लो तकनीक का इस्तेमाल किया है जिसे पहली बार इस्तेमाल किया गया है। इस तकनीक को करने में मेरी मदद की योगा और मार्शल आर्ट्स ने जो मैं बचपन से करते हुए आया हूं।   

Navodayatimesचक के साथ काम करना मेरे लिए अचीवमेंट

चक रसेल की पूरी दुनिया फैन है। जब मुझे पता चला कि चक रसेल मेरे साथ एक फिल्म बनाना चाहते हैं तो मैं खुद को बहुत बड़ा अचीवर समझने लगा। मैं फिल्म इंडस्ट्री का हिस्सा नहीं हूं, ऐसे में जब कोई बाहर से आकर हम पर इतना विश्वास करे तो बहुत अच्छा लगता है।

जब रणवीर सिंह ने 'मर्द को दर्द नहीं होता' के अभिमन्यु दासानी उर्फ सूर्या को मारा एक जोरदार पंच !

फिल्म से जुडऩे का कारण ग्लोबल इश्यू: चक रसेल

इस फिल्म से जुडऩे का जो सबसे बड़ा कारण था इसका सब्जेक्ट, जो कि एक ग्लोबल इश्यू है। दूसरी इसकी खास बात ये थी कि इस फिल्म के लिए टेक्निकल काम करने से ज्यादा हमें नैचुरल और इकोफ्रेंडली जगहों पर काम करना था। तीसरी इसकी खास बात यह है कि ये एक एक्शन कॉमेडी फिल्म है जो मेरा एक्सपर्टाइज है।

एक्शन सीन के लिए नहीं हुआ बॉडी डबल्स का इस्तेमाल

मेरा काम करने का तरीका बहुत ही अलग है। मैं अपनी फिल्म की स्क्रिप्ट अपने हीरो की बॉडी लैंग्वेज और उसकी खासियतों के हिसाब से तैयार कराता हूं। विद्युत की बात करूं तो वह ‘लार्जर दैन लाइफ’ कलाकार हैं। फिल्म की कहानी सुनने के बाद और स्क्रिप्ट लिखे जाने से पहले मैंने विद्युत से मुलाकात की। विद्युत उम्दा कलाकार होने के साथ-साथ सारे स्टंट खुद करते हैं। इस फिल्म के एक्शन सीन की सबसे खास बात यह है कि पूरी फिल्म में हमने कहीं भी डुप्लीकेट या बॉडी डबल्स का इस्तेमाल नहीं किया है।

Exclusive Interview: एक्शन, कॉमेडी, ड्रामा का परफेक्ट डोज है ‘मर्द को दर्द नहीं होता’

बॉलीवुड से होती थी जलन

हॉलीवुड फिल्मों में गाने नहीं दिखते हैं जिसके कारण मुझे बॉलीवुड से काफी जलन होती थी। भारतीय फिल्मों ये खास बात है कि आप किसी भी जोनर की फिल्म में गाने और डांस डालकर उसे एंटरटेनिंग बना सकते हैं। मैं भी ऐसा करने चाहता था और इस फिल्म में मुझे ये मौका मिला।

जानवरों के प्रति सहानुभूति

मैं अपनी फिल्म के जरिए लोगों में जानवरों के प्रति सहानुभूति जगाना चाहता हूं। इस फिल्म की शूटिंग करने के दौरान हाथियों और विद्युत के बीच खासी दोस्ती हो गई थी जिसका असर आपको परदे पर दिखाई देगा। फिल्म की हीरोइन पूजा सावंत तो इन हाथियों से इतना जुड़ गईं थीं कि शूटिंग खत्म होने के बाद वह इनसे बिछड़ते वक्त वो रोने लगीं। दर्शकों को भी ये जुड़ाव फिल्म में कई बार महसूस होगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.