Wednesday, Jan 19, 2022
-->
executioners search to hang the culprits complete will be hanged in tihar

Nirbhaya Case: दोषियों को फांसी देने के लिए जल्लाद की खोज पूरी, तिहाड़ में हो सकती है फांसी

  • Updated on 12/11/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। निर्भया गैंगरेप (Nirbhaya Gang rape) के दोषियों को कभी भी फांसी दी जा सकती है। पिछले कुछ दिनों से तिहाड़ जेल प्रशासन द्वारा की जा रही जल्लाद की खोज पूरी हो गई। जानकारी के मुताबिक मेरठ जेल से यूपी का एक मात्र अधिकारिक जल्लाद पवन कुमार को तिहाड़ भेजा जाएगा।

CAB 2019: दिल्ली कांग्रेस का विरोध प्रदर्शन, BJP दफ्तर के सामने लगे 'नरेंद्र मोदी हाय-हाय' के नारे

हाल ही में घटना के चौथे आरोपी विनय शर्मा (Vinay Sharma) को मंडावली जेल से तिहाड़ शिफ्ट किया गया। यानी अब चारों आरोपी तिहाड़ जेल (Tihar Jail) में है। पिछले दिनों यह भी खबर आयी कि तिहाड़ प्रशासन ने बिहार की बक्सर जेल से फांसी का फंदा मंगवा रहे हैं। पवन कुमार उत्तर प्रदेश के एक मात्र अधिकारिक जल्लाद हैं और अभी मेरठ जेल में सेवाएं दे रहे हैं। पवन को यहां 3000 रुपए मासिक वेतन मिलता है।

क्राइम ब्रांच ने थ्री डी-इमेज से 360 डिग्री के एंगल पर की मैपिंग

कानूनी विकल्पों की तलाश में जुटे आरोपी
दूसरी ओर निर्भया मामले में फांसी की सजा पाए दोषी अभी कानूनी विकल्पों की तलाश में जुट गए हैं। जेल सूत्रों की मानें तो इस मामले में चारों दोषी टीवी पर खूद से जुड़ी तमाम खबरों पर नजर बनाए हुए हैं। हैदराबाद केस (Hyderabad Case) के बाद से चारों आरोपी डरे हुए हैं। हालांकि इनकी चिंता तो तभी शुरु हो गई थी कि जब जेल प्रशासन की तरफ से दोषियों को दया याचिका दायर करने के लिए सात दिनों का समय दिया गया था।

नासूर बन सकता है यह अग्निकांड, जिंदा रहे तो बढ़ेगा कैंसर का जोखिम

फैसले से घबराए आरोपी
जेल सूत्रों का कहना है कि पवन को मंडोली जेल से यहां शिफ्ट करने के बाद अन्य सभी दोषी घबरा गए। अक्षय, मुकेश व पवन जेल नंबर-दो में अलग-अलग जगहों पर रखा गया हैं। तीनों की मुलाकात नहीं होती है। इन तीनों को इनके हमउम्र कैदियों के साथ रखा गया है। जेल प्रशासन की ओर से सभी पर सीसीटीवी कैमरे (CCTV Camera) से नजर रखी जा रही है। इसके अलावा जेल प्रशासन उनके साथ रह रहे दो अन्य कैदियों से भी इनके बारे में पूरी जानकारी ले रहा है। अभी इन्हें किसी अन्य कैदी से मिलने नहीं दिया जा रहा।      

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.