Saturday, Mar 06, 2021
-->
experts reveal about bird flu - h5n1 more dangerous than coronavirus pragnt

Bird Flu को लेकर विशेषज्ञों का खुलासा- कोरोना से ज्यादा खतरनाक H5N1

  • Updated on 1/12/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। देश भर में कोरोना वायरस (Coronavirus) संकट के बीच बर्ड फ्लू (Bird Flu) का खतरा मंडरा रहा है। देश के 10 राज्यों में बर्ड फ्लू के प्रकोप की पुष्टि हो चुकी है। बर्ड फ्लू की पुष्टि के बाद केंद्र के साथ-साथ राज्य सरकारों के लिए चिंता बढ़ गई है। इस बीच विशेषज्ञों के मुताबिक बर्ड फ्लू कोरोना वायरस के मुकाबले कहीं अधिक जानलेवा है। शोध और चिकित्सकीय विश्लेषण में वैज्ञानिकों ने बर्ड फ्लू वायरस से मृत्युदर 60 प्रतिशत तक बताई है। यदि बर्ड फ्लू का वायरस एच5एन1 (H5N1) है तो बहुत खतनाक है, जबकि एच5एन8 (H5N8) उतना घातक नहीं है। दिल्ली राजधानी में चूंकि एच5एन8 पाया गया है, ऐसे में यह राहत की बात है। 

कोविशील्ड वैक्सीन की पहली खेप हुई रवाना, जानें सीरम इंस्टीट्यूट कितने खुराक के लिए किया है सौदा

साफ-सफाई का रखें विशेष ध्यान 

  • छत पर रखी टंकियों, रेलिंग या पिजरों को डिटर्जेंट या मेडिकेटेड मिश्रण से साफ करें।
  • पक्षियों के मल करने वाले स्थान या उनसे संबंधित जगह पर फैले कचरे और गंदगी को सावधानी पूर्वक साफ करें। 
  • पक्षियों को खुले हाथों से न पकड़ें, उनसे निश्चित दूरी बनाकर रखें। 
  • एक संक्रमित पक्षी करीब 10 दिनों तक मल या लार के जरिए वायरस का प्रसार कर सकता है। इसलिए नियमित सफाई बेहद जरूरी है। 

कोविशील्ड वैक्सीन की पहली खेप सीरम इंस्टीट्यूट से हुई रवाना, ट्रकों में भेजी गई

दिल्ली में संक्रमण खतरनाक नहीं   
दिल्ली में एच5एन8 संक्रमण पाया गया है जो अधिक खतरनाक नहीं है। यह पक्षियों से इंसानों में नहीं फैलता है। मगर बचाव जरूरी है। 

चिकित्सकों के लिए चुनौती
कोरोना के संकट की तरह अब पशु-पक्षियों के चिकित्कसकों को बर्ड फ्लू से लडऩा होगा। पक्षियों के स्वास्थ्य विशेषज्ञ डॉ. रामेश्वर यादव के मुताबिक चुनौती तो है पर पूरी होशियारी के साथ और सावधानी बरतते हुए काम 
किया जाएगा। 

दिल्ली में Bird Flu Virus मिलने से हड़कंप, सिसोदिया बोले- घबराने की कोई बात नहीं

दिल्ली ंमें H-5 N-8 की उपस्थिति
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल स्वयं अधिकारियों के साथ बात करके बर्ड फ्लू का संक्रमण रोकने की पूरी निगरानी कर रहे हैं। दिल्ली मुर्गा मंडी भी कुछ दिन बंद रहेगी। दिल्ली में बर्ड फ्लू के खतरनाक H-5 N-1 वायरस की बजाय H-5 N-8 की उपस्थिति का पता चला है, जिसे इंसानों के लिहाज से खतरनाक नहीं माना जा रहा है। 

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने सोमवार को डिजिटल प्रेस वार्ता में कहा कि दिल्ली में बर्ड फ्लू पर चिंता की कोई बात नहीं है। बर्ड फ्लू के संक्रमण को रोकने के लिए सभी कदम उठाए जा रहे हैं। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि एहतियात के तौर पर लाइव स्टॉक और मुर्गा आदि बाहर से लाने पर 10 दिनों तक के लिए रोक लगाई गई है।

बर्ड फ्लूः देहरादून, ऋषिकेश में करीब 200 पक्षी मृत मिले

पैकेज्ड चिकन या प्रोसेस्ड चिकन को  बाहर से लाने  पर रोक
साथ ही पैकेज्ड चिकन या प्रोसेस्ड चिकन को भी बाहर से लाकर दिल्ली में बेचने पर रोक है। ताकि एक राज्य से दूसरे राज्य में संक्रमण को रोका जा सके, लेकिन बर्ड फ्लू से घबराने की कोई जरूरत नहीं है। यह एक सामान्य इन्फ्लूएंजा है। पक्षी से मनुष्य में इसके फैलने की बात अब तक सामने नहीं आई है।

डिप्टी सीएम ने कहा है कि जो लोग चिकन खाते हैं उन्हें भी घबराने की जरूरत नहीं है। पूरी तरह पके हुए चिकन या पूरी तरह उबले हुए अंडे से संक्रमण का खतरा नहीं है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले दिनों जालंधर भेजे गए 100 से अधिक सैंपलों के नतीजों का इंतजार है। विकास विभाग की पशुपालन इकाई में के अधिकारियों को राज्यभर में सघन अभियान चलाने का निर्देश दिया गया है। पशुपालन इकाई के सभी 48 वेटरनरी अस्पताल के डॉक्टर लगातार राज्य भर में बर्ड फ्लू की निगरानी कर रहे हैं।

Bird Flu in Delhi: 100 से अधिक सैंपलों की रिपोर्ट का इंतजार, बाहर से चिकन लाने पर रोक

10 राज्यों में दे चुका है दस्तक 
केंद्र ने सोमवार को राज्यों से मुर्गा मंडियों को बंद नहीं करने अथवा कुक्कुट (पॉल्ट्री)  उत्पादों की बिक्री प्रतिबंधित नहीं करने को कहा क्योंकि मानव में बर्ड फ्लू संचरण की कोई वैज्ञानिक रिपोर्ट सामने नहीं आई है। हालांकि, देश के 10 राज्यों में बर्ड फ्लू के प्रकोप की पुष्टि हो चुकी है। पशुपालन एवं डेयरी विभाग ने एक बयान में कहा कि 11 जनवरी 2021 तक देश के 10 राज्यों में एवियन इन्फ्लूएंजा की पुष्टि हो चुकी है।  सोमवार तक दस राज्यों केरल, राजस्थान, मध्यप्रदेश, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, गुजरात, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, उत्तराखंड और महाराष्ट्र में बर्ड फ्लू के प्रकोप की पुष्टि हो चुकी है।

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.