Saturday, Jan 29, 2022
-->
explosive-laden-vehicle-case-opinion-in-postmortem-report-on-death-of-mansukh-hiren-rkdsnt

उठते सवालों के बीच मनसुख हीरेन की मौत को लेकर पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में रखी गई राय

  • Updated on 3/6/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। मुंबई में पिछले महीने उद्योगपति मुकेश अंबानी के आवास के पास मिले विस्फोटकों से लदे वाहन के मालिक बताये जाने वाले मनसुख हीरेन की मौत के संभावित कारण को लेकर राय शनिवार को पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में रखी गई है। ठाणे पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि हीरेन के विसरा को विश्लेषण के लिए मुंबई में एक फॉरेंसिक प्रयोगशाला में भेजा गया है। 

तापसी पन्नू ने आयकर विभाग के छापे पर तोड़ी चुप्पी, निशाने पर सीतारमण

पुलिस ने बताया था कि हीरेन (46) ठाणे में मुंबई-रेती बंदर रोड पर खाड़ी के किनारे शुक्रवार की सुबह मृत पाए गए थे। अधिकारी ने बताया कि शनिवार को प्राप्त पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में उल्लेख किया गया है कि हीरेन के शरीर पर कोई बाहरी चोट के निशान नहीं हैं। उन्होंने कहा, ‘‘हीरेन के विसरा को संरक्षित रखा गया है और रासायनिक विश्लेषण के लिए मुंबई के कलिना में फॉरेंसिक विज्ञान प्रयोगशाला में भेजा गया है।’’ अधिकारी ने कहा कि डूबने से हीरेन की मौत होने की आशंका है। 

किसान आंदोलन के 100 दिन : किसान नेताओं ने मोदी सरकार को फिर चेताया

उन्होंने कहा कि पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी शनिवार को ठाणे के नौपाडा में हीरेन के आवास पर पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट लेकर गये और उनके परिवार के सदस्यों को उनका शव लेने के लिए राजी कर लिया गया। परिवार के सदस्यों ने पहले पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट नहीं मिलने पर शव लेने से इनकार कर दिया था। डीसीपी अविनाश भूरे ने कहा, ‘‘पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट हीरेन के परिवार के सदस्यों को सौंप दी गई है और आगे की प्रक्रिया जारी है।’’ ठाणे पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया था कि हीरेन बृहस्पतिवार रात को लापता हो गये थे। मुंब्रा रेती बुंदर रोड से लगी खाड़ी के किनारे उनका शव मिला है।  

किसान आंदोलन को चर्चा से गायब करने के लिए हथकंडे अपना रही मोदी सरकार: कांग्रेस

 

सुब्रमण्यन स्वामी ने श्रीधरन की उम्र को लेकर उठाए सवाल, आडवाणी-जोशी को किया याद

गौरतलब है कि दक्षिण मुंबई में अंबानी के बहुमंजिला घर ‘एंटीलिया’ के निकट 25 फरवरी को मनसुख की‘स्कॉर्पियो’ कार के अंदर जिलेटिन की छड़ें रखी हुई मिली थीं। पुलिस ने कहा था कि कार 18 फरवरी को एरोली-मुलुंद ब्रिज से चोरी हुई थी। मुंबई पुलिस की अपराध शाखा ने इस मामले में हीरेन का बयान दर्ज किया था। वाहनों के पुर्जों का कारोबार करने वाले हीरेन ने कहा था कि अपनी कार चोरी होने के बाद उन्होंने पुलिस में शिकायत दी थी। विपक्ष के नेता देवेन्द्र फडणवीस ने शुक्रवार को इस घटना की जांच राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआईए) से कराने की मांग की थी। महाराष्ट्र भाजपा अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने शनिवार को आरोप लगाया कि हीरेन की संदिग्ध मौत प्रथम ²ष्टया एक हत्या है। 

सूरत की अदालत ने 122 लोगों को सिमी का सदस्य होने के आरोप से किया बरी

 

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें... 


 

comments

.
.
.
.
.