Thursday, Apr 15, 2021
-->
explosive material found near mukesh ambanis residence prshnt

मुकेश अंबानी के आवास के पास विस्फोटक सामग्री बरामद, मचा हड़कंप

  • Updated on 2/26/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। मुंबई में उद्योगपति मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) के आवास के पास गुरुवार शाम एक संदिग्ध वाहन में विस्फोटक सामग्री जिलेटिन की छड़ें मिली। पुलिस ने इस बारे में बताया। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि अंबानी के आवास एंटीलिया के पास कार्मिकेल रोड पर संदिग्ध अवस्था में एक वाहन मिला। उन्होंने कहा कि सूचना मिलने के तुरंत बाद बम पहचान और निष्क्रिय दस्ते (बीडीडीएस) को वहां भेजा गया। उन्होंने कहा कि विस्फोटक सामग्री की बरामदगी के संबंध में आगे जांच की जा रही है। 

केरल: ट्रेन से जिलेटिन की 100 छड़ें और 350 डेटोनेटर ले जा रही थी महिला, कोझिकोड़ में पुलिस ने पकड़ा

अंटीलिया से 200 मीटर दूर खड़ी थी संदिग्ध कार
दरअसल दक्षिण मुंबई के पैडर रोड इलाके में स्थित अंटीलिया इमारत से करीब 200 मीटर दूर एक संदिग्ध कार खड़ी थी। जब काफी देर तक कार खरी रही  और वहां कोई नहीं आया तब कार को खड़ी देख मुकेश अंबानी की इमारत के सुरक्षाकर्मियों ने पुलिस को सूचित किया, वहीं पुलिस के अलावा स्निफर डाग स्क्वायड, बम निरोधक दस्ता एवं आतंकवाद निरोधक दस्ता (एटीएस) की टीम भी मौके पर पहुंच गई।

बम डिटेक्शन एवं डिस्पोजल स्क्वायड ने गाड़ी का दरवाजा खोलकर जांच शुरू की तो उसे गाड़ी में जिलेटिन की 20 छड़ें मिली।  जिलेटिन विस्फोट के काम में लाया जाता है। 

'सत्ता' और 'सोशल मीडिया' में बढ़ा टकराव, संविधान का दायरा लांघ रहे फेसबुक-गूगल

क्राइम ब्रांच ने अपने हाथ में ली जांच
इस मामले की पुष्टी महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने भी है, उन्होंने कहा, अंबानी के घर के नजदीक एक स्कार्पियो कार में जिलेटिन की 20 छड़ें पाई गई हैं। मुंबई पुलिस की अपराध शाखा पूरे मामले की जांच कर रही है। अभी तक इस मामले में किसी की गिरफ्तारी नहीं हो पाई है। अंबानी इमारत गांवदेवी पुलिस थाने के अंतर्गत आती है। लेकिन इस मामले की जांच क्राइम ब्रांच ने अपने हाथ में ले ली है। 

सूरत रोडशो में केजरीवाल का बीजेपी पर वार- AAP के पार्षदों को तोड़ने के लिए बनाई जा रही योजना

कड़ी सुरक्षा के बावजूद हुई चुक
बता दें कि अंटीलिया इमारत में दो गेट हैं, जहां बड़ी संख्या में सुरक्षाकर्मी मौजूद रहते हैं। इसीलिए कार खड़ी करनेवाले ने इमारत के गेट से करीब 200 मीटर की दूरी पर यह कार खड़ी की थी सुरक्षाकर्मियों को कार पर शक हुआ, क्योंकि उसकी नंबर प्लेट मुकेश अंबानी के सुरक्षा काफिले में चलनेवाली कारों के नंबर से मिलता-जुलता था। लेकिन वह कार उनके सुरक्षा काफिले की नहीं थी। दरअसल मुकेश अंबानी को सरकार की तरफ से जेड कैटेगरी की सुरक्षा मिली हुई है।

इसके अलावा उनके पास अपनी एवं अपने घर की सुरक्षा के लिए प्राइवेट सुरक्षाकर्मियों की भी एक बड़ी टीम है। सुरक्षा काफिले में बाइकर्स की टीम भई है। अनुमान है कि मुकेश अंबानी की सुरक्षा पर प्रतिमाह 20 लाख रुपए से अधिक खर्च किए जाते हैं। इसके बावजूद उनकी इमारत के नजदीक विस्फोटक से लदी कार मिलने से मुंबई पुलिस की चिंता बढ़ गई है। 

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

comments

.
.
.
.
.