Saturday, Jan 22, 2022
-->
farm-bills-bjp-directed-to-leaders-to-suppress-protests-handed-over-promotional-material-prsgnt

कृषि बिल का विरोध दबाने के लिए BJP नेताओं को मिले निर्देश, प्रचार सामग्री संग मिला RSS का साथ!

  • Updated on 9/22/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। मोदी सरकार द्वारा कृषि सुधार संबंधी तीन विधयकों (Farm Bills/Agruculture Bills) को पास करने के बाद जिस तरह से देश भर के किसानों ने विरोध करना शुरू किया है उसको रोकने के लिए अब सरकार ने भी इसे दबाने के लिए काम करना शुरू कर दिया है। बीजेपी सरकार ने इसके लिए अपने नेताओं के साथ योजना बनाई है। 

इस योजना के लिए बीजेपी की तरफ से पार्टी नेता किसानों के पास जाकर उनसे सीधे मिलेंगे और उनकी गलतफहमियां दूर करने की कोशिश करेंगे। 

शशि थरूर ने कसा सरकार पर तंज, NDA को बताया- नो डाटा अवेलेबल

मोदी सरकार ने इसके लिए विपक्ष के दावे और न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) के फायदे के बारे में किसानों को बताने का फैसला लिया है। इसके लिए बीजेपी ने एक अभियान शुरू किया है जिसके अंतर्गत पार्टी के नेता किसानों से मिलकर विपक्ष के दावे – ‘ये बिल किसान विरोधी हैं’ – का जवाब देगी। इसके लिए बीजेपी नेताओं को बिलों से जुड़ी प्रचार सामग्री भी सौंपी गई है। 

साथ ही इंडियन एक्सप्रेस पर छपी एक रिपोर्ट के अनुसार माने तो पार्टी नेताओं से कहा गया है कि इस बिल पर जानकारी देने और किसानों का भ्रम दूर करने के लिए टि्वटर का इस्तेमाल करें।

अठावले ने किया कंगना का खुल कर समर्थन, RPI के नए पोस्टर में ‘हाथ जोड़े’ नजर आई एक्ट्रेस…..

रिपोर्ट में बताया गया है कि इस अभियान के लिए केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने बीजेपी और एनडीए शासित राज्यों के कृषि मंत्रियों से बातचीत की है और नए कृषि बिलों के फायदे बताए हैं। इतना ही नहीं, बिल के बारे में पंजाब, हरियाणा और आस-पास के सूबों के सांसदों और केंद्रीय मंत्रियों के साथ भी मीटिंग की गई हैं। इसके लिए आरएसएस का भी साथ लिया जा रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.