Thursday, Feb 25, 2021
-->
farmer movement farmers tractor march before talks with modi bjp govt prepared strategy rkdsnt

किसान आंदोलन : 8वें दौर की वार्ता से पहले मोदी सरकार ने बनाई रणनीति

  • Updated on 1/7/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। हरियाणा के किसानों के एक समूह ने बृहस्पतिवार को बृहस्पतिवार को केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से मुलाकात की और प्रदर्शनकारी किसान संघों के साथ शुक्रवार होने वाली आठवें दौर की वार्ता में उन्हें भी शामिल करने का अनुरोध किया। वे सतलुज यमुना संपर्क (एसवाईएल) नहर का लंबे समय से लंबित मुद्दा उठाना चाहते हैं।

बदायूं कांड : अपने बयान को लेकर ट्रोल हुईं महिला आयोग की सदस्या, विपक्ष ने उठाए सवाल 

इसके अलावा, जाने-माने धार्मिक नेता पंजाब के नानकसर गुरुद्वारा के प्रमुख बाबा लखा ने भी तोमर से यहां अलग से मुलाकात की और किसानों के प्रदर्शनों से संबंधित मुद्दों लेकर चर्चा की। हरियाणा युवा किसान संघर्ष समिति (एचवाईकेएसएस) के सदस्य तोमर से मिले हैं। इस संगठन के प्रमुख पूर्व विधायक नरेश यादव अतेली हैं। इसकी तवज्जो एसवाईएल मुद्दे पर थी। बीस किसानों का एक प्रतिनिधिमंडल महेंद्रगढ़ जिले के अतेली शहर से 130 किलोमीटर तक सफर पैदल तय करके राष्ट्रीय राजधानी पहुंचा है। वे 30 दिसंबर को रवाना हुए थे। 

दिल्ली दंगे: उमर खालिद के खिलाफ चार्जशीट ‘लीक’ होने पर पुलिस को नोटिस

पत्रकारों से बातचीत करते हुए अतेली ने कहा, 'मैंने मंत्री से कहा कि आप आठ जनवरी की बैठक के लिए किसान नेताओं को आमंत्रित कर रहे हैं। कृपया हमारे 11 सदस्यों को भी आमंत्रित करें। हम भी किसान हैं और एसवाईएल नहर का मुद्दा उठाना चाहते हैं।' उन्होंने कहा कि एसवाईएल का मुद्दा 45 साल पुराना है जबकि नए कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन हालिया है। सरकार को पंजाब के साथ एसवाईएल नहर का मुद्दा निपटाने को प्राथमिकता देनी चाहिए। 

किसान आंदोलन को लेकर हरसिमरत कौर ने पीएम मोदी से की अपील 

अतेली ने कहा कि उच्चतम न्यायालय का आदेश भी हरियाणा के पक्ष में आया है और अगर नहर का काम पूरा हो गया होता तो राज्य को लाखों हेक्टेयर कृषि भूमि के लिए पानी मिल गया होता। एचवाईकेएसएस के प्रमुख ने कहा कि मुद्दे को केंद्रीय जनशक्ति मंत्रालय के साथ भी उठाया गया है। उन्होंने कहा कि दिल्ली की सीमाओं पर चल रहे प्रदर्शन से लोगों को परेशानी हो रही है, क्योंकि इससे यातायात जाम हो गया है।

संयुक्त किसान मोर्चा के तत्वावधान में ट्रैक्टर यात्रा निकाली 
संयुक्त किसान मोर्चा के तत्वाधान में गाजीपुर सीमा से हरियाणा के पलवल तक किसानों की ओर से आज ट्रैक्टर यात्रा निकाली गयी। भारतीय किसान यूनियन (अराजनैतिक) के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत के नेतृत्व में यह यात्रा निकाली गयी। टिकैत आज दोपहर 12 बजे के करीब खुद नीले रंग के ट्रैक्टर पर सवार होकर ट्रैक्टर रैली में शामिल हुए। 

किसानों ने बताया कि यह ट्रैक्टर यात्रा इस्टर्न पेरीफेरल रोड पर गाजियाबाद के दुहाई, डासना, व गौतमबुद्ध नगर के बील अकबरपुर, सिरसा होते हुए पलवल तक जाएगी और वहां से वापस आएगी। पुलिस ने बताया कि पुलिस उपायुक्त राजेश कुमार सिंह तथा अपर पुलिस आयुक्त लव कुमार तथा इस्टर्न पेरीफेरल पर मौजूद हैं और संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दे रहे हैं। उन्होंने बताया कि किसानों को रैली निकालने की अनुमति दी गई है। 

गौरतलब है कि इस रैली में शामिल होने के लिए गौतमबुद्ध नगर, गाजियाबाद, बुलंदशहर, मथुरा, आगरा, मुजफ्फरनगर, बागपत समेत कई जनपदों के सैकड़ों किसान अपना-अपना ट्रैक्टर लेकर पहुंचे हैं। पुलिस ने बताया कि इस दौरान गौतमबुद्ध नगर के बील अकबरपुर और सिरसा कट से पलवल की तरफ जाने वाले वाहनों का दोपहर 12 बजे से दिन से अपराह्न तीन बजे तक पेरीफेरल रोड पर प्रवेश बंद कर दिया गया है। दूसरी ओर किसानों ने हरियाणा के जींद, सोनीपत एवं फरीदाबाद समेत अन्य स्थानों पर केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ ट्रैक्टर रैली निकाली । 

TMC सांसद महुआ मोइत्रा ने कोर्ट से अवमानना मामले में कार्यवाही रोकने का किया अनुरोध

जींद में किसानों ने तीन कृषि कानूनों के विरोध में किसानों ने ट्रैक्टर मार्च किया तो उचाना में किसानों ने राष्ट्रीय, राज्य एवं ङ्क्षलक मार्गों पर ट्रैक्टर मार्च निकाला। किसानों ने कहा कि सरकार की मंशा थी कि लंबा आंदोलन चलेगा तो यह कामयाब नहीं होगा लेकिन किसान मन बने चुके हैं कि चाहे आंदोलन एक साल तक चले वे अपने हक की लड़ाई के लिए दिल्ली बॉर्डर पर डटे रहेंगे। दूसरी ओर कुंडली सीमा पर डटे किसानों ने आज जीटी रोड एवं अन्य मार्गों पर पर बड़ी संख्या में ट्रैक्टर रैली निकाल कर सरकार को अपना दम दिखाया। फरीदाबाद में भी किसानों ने ट्रैक्टर रैली निकाली और पलवल की ओर कूच किया।

यहां पढ़े कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरें...

 

  •  

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.