Wednesday, Jul 06, 2022
-->
farmer-s-movement-will-end-with-havan-and-fatah-march

हवन और फतह मार्च के साथ होगा किसान आंदोलन का समापन

  • Updated on 12/14/2021

नई दिल्ली/टीम डिजीटल। किसान आंदोलन का बुधवार को आखिरकार समापन हो जाएगा। गाजीपुर बॉर्डर से लगभग सभी टैंट हटा लिए गए हैं। बुधवार सुबह हवन और फतह मार्च के बाद करीब 10 बजे किसान पूरी तरह से गाजीपुर बॉर्डर को खाली कर देंगे। भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत भी कल गाजीपुर बॉर्डर से घर वापस जाएंगे। वहीं दूसरी ओर स्थानीय लोग भी बेसब्री से सडक़ खुलने का इंतजार कर रहे हैं। उन्हें भी दिल्ली आने-जाने में राहत मिलेगी। 

भाकियू ने लोगों से जुटने की अपील की
भारतीय किसान यूनियन ने भी लोगों से सोशल मीडिया के अपील की है कि वह किसानों के फतह मार्च का हिस्सा बनकर इसे ऐतिहासिक बनाएं। भाकियू के राष्ट्रीय प्रेस प्रभारी शमशेर राणा ने बताया कि कई गावों के किसान गाजीपुर बॉर्डर पहुंचेेंगे और फिर आयोजन के बाद अपने-अपने गंतव्यों के लिए रवाना हो जाऐंगे। मंगलवार को देर रात मेरठ व आसपास के इलाकों से किसान बॉर्डर जुटना भी शुरू हो चुके थे।

मेरठ रोड रह सकता है जाम 
किसान जब वापस घरों की ओर कूच करेंगे। उस वक्त सडक़ों पर जाम के हालात बन सकते हैं। किसान गाजीपुर से मोदीनगर, मेरठ, मंसूरपुर होते हुए सोरम गांव पहुंचेगे। जहां खाप चौधारियों के राष्ट्रीय कार्यालय से होते हुए फतेह मार्च का सिसौली में समापन होगा। इसलिए मेरठ रोड पर जाम की स्थिति बनी रह सकती है। 

एनएचएआई भी तैयारियों में जुटा
आंदोलन खत्म होने के बाद अब राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण पर भी हाई-वे को खोलने का दवाब है। इसलिए एनएचएआई ने सडक़ों की मरम्मत और आंदोलन स्थल के आस-पास साफ सफाई का काम तेज कर दिया है। अधिकारियों का कहना है कि जल्द से जल्द हाईवे को सुचारू करने की कोशिश की जाएगी। फिलहाल पुलिस ने भी आंदोलन स्थल से बैरिकेटिंग नहीं हटाई है।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.