Sunday, Feb 28, 2021
-->
farmers-jammed-dehradun-delhi-highway-borders-of-capital-sealed-albsnt

किसानों ने देहरादून-दिल्ली हाईवे किया जाम, राजधानी की सीमाएं रही सील

  • Updated on 1/23/2021

देहरादून/हरिद्वार। कृषि कानूनों के खिलाफ किसान संगठनों और राजनीतिक दलों की ओर से राजभवन कूच के आह्वान पर निकले किसानों को पुलिस ने अलग-अलग जगहों पर रोक लिया। राजधानी देहरादून की ओर बढ़ने के दौरान किसानों ने कुछ स्थानों पर पुलिस बेरिकेडिंग को भी तोड़ डाला।  हालांकि, तमाम प्रयासों के बावजूद राजभवन तक नहीं पहुंच सके। इस दौरान राजधानी की सीमाएं सील रहीं जिस कारण आम यात्रियों को अत्यधिक परेशानी का सामना करना पड़ा।

हरिद्वार कुंभः आयुक्त को 5 और मेलाधिकारी को 2 करोड़ के वित्तीय अधिकार

हरिद्वार जिले के बिहारीगढ़ के रास्ते देहरादून जाने वाले भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं को पहले उत्तराखंड पुलिस ने अमानतगढ़ में रोका और बाद में यू.पी. पुलिस ने मोर्चा संभाल लिया। इसके बाद भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं ने दिल्ली-देहरादून हाईवे पर जाम लगाया। हाईवे करीब 4 घंटे बाधित रहा। बाद में हरिद्वार और देहरादून के प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंचे और किसानों से ज्ञापन लिया।

निरंजनी अखाड़े के आचार्य महामण्डलेश्वर पद पर विराजमान हुए स्वामी कैलाशानंद गिरी महाराज

इसके बाद किसानों से हाईवे को खाली कराया गया। वहीं दूसरी ओर रुड़की से हरिद्वार के रास्ते देहरादून की ओर जा रहे उत्तराखंड किसान मोर्चा के कार्यकर्ताओं को पुलिस ने ज्वालापुर में रोक लिया। पुलिस ने कार्यकर्ताओं को यहां से आगे नहीं जाने दिया। देहरादून में आशारोड़ी बार्डर पूरी तरह सील रहा। जबकि डोईवाला से किसान बेरिकेड तोड़कर हर्रावाला तक पहुंच गए। हर्रावाला में किसान पुलिस पर भारी पड़े और जोगीवाला पुलिस चौकी के पास काफी मशक्कत के बाद पुलिस बल किसानों पर काबू पा सका। जोगीवाला में पुलिस और किसानों के बीच झड़प के हालात रहे।

पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.