Monday, Mar 01, 2021
-->
farmers protest dsgmc sent notice on kangana ranaut tweet pragnt

Farmers Protest: कंगना के 'आपत्तिजनक' Tweet पर भड़के मनजिंदर सिंह सिरसा, भेजा लीगल नोटिस

  • Updated on 12/4/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के नए कृषि कानूनों (Farm Laws) के खिलाफ आंदोलन में शामिल एक बुजुर्ग किसान दादी को बिलकिस बानो बताने का मामला तूल पकड़ता नजर आ रहा है। इस मामले में दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंध समिति (DSGMC) ने कंगना रनौत को कानूनी नोटिस जारी कर, उन्हें केन्द्र के कृषि कानूनों के विरुद्ध प्रदर्शन कर रहे किसानों के खिलाफ 'आपत्तिजनक' ट्वीट पर बिना किसी शर्त माफी मांगने को कहा है और अभिनेत्री से उन ट्वीट को हटाने को भी कहा गया है।

Shivsena में शामिल होने के बाद उर्मिला ने कंगना के लिए मजे, गाया गोविंदा का यह सुपरहिट गाना

DSGMC ने कंगना रनौत को भेजा नोटिस
डीएसजीएमसी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा (Manjinder Singh Sirsa) ने ट्वीट किया, 'हमने कंगना रनौत को एक किसान की बुजुर्ग मां के 100 रुपए में उपलब्ध होने संबंधी टिप्पणी वाले आपत्तिजनक ट्वीट पर उन्हें कानूनी नोटिस भेजा है। उनके ट्वीट किसानों के प्रदर्शन को राष्ट्र विरोधी दिखाते हैं। हम किसानों के विरोध पर उनकी संवेदनहीन टिप्पणी के लिए उनसे बिना शर्त माफी मांगने को कहते हैं।'

Twitter पर छिड़ी कंगना-दिलजीत के बीच जंग, सिंगर ने कहा- तूने कितनों की चाटी है....

कंगना ने ट्वीट कर कहा था ये
कंगना ने इस हफ्ते की शुरुआत में किसान आंदोलन में शामिल एक बुजुर्ग महिला को शाहीन बाग आंदोलन से प्रसिद्ध हुईं दादी बिल्किस बानो बताया था। उन्होंने रिट्वीट करते हुए दोनों बुजुर्ग महिलाओं की तस्वीरों को साझा करते हुए लिखा कि यह शाहीन बाग वाली दादी हैं जो 100 रुपए में प्रदर्शन करने के लिए उपलब्ध हैं। लोगों के सवाल उठाने पर कंगना ने कथित तौर पर अपना ट्वीट हटा दिया।

चौथे दौर में भी नहीं बनी बात, किसानों से सरकार की फिर होगी बात

पहले भी भेजा नोटिस
इससे पहले डीएसजीएमसी के एक सदस्य ने अभिनेत्री कंगना रनौत को नए कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों को निशाना बनाने वाले उनके ट्वीट के लिए एक कानूनी नोटिस भेजा है। कमेटी के सदस्य जस्मैन सिंह नोनी की ओर से वकील हरप्रीत सिंह होरा ने यह नोटिस भेजा है। नोटिस में कहा गया है कि जब मुंबई में रनौत के परिसर के एक हिस्से को ढहाया गया तो उन्होंने अपने प्रशंसकों को एकजुट करने के लिए सोशल मीडिया का इस्तेमाल किया और कहा कि निगम की कार्रवाई उनके मौलिक अधिकारों पर हमला है।

तमिलनाडु-केरल के तट से आज टकराएगा चक्रवाती तूफान 'बुरेवी', NDRF की कई टीमें हुई तैनात

कंगना पर लगाया आरोप
नोटिस में कहा गया, 'इसी तरह संविधान के तहत किसानों को भी शांतिपूर्ण प्रदर्शन भी अधिकार है और वह किसानों का अपमान नहीं कर सकती हैं।' नोटिस के मुताबिक कंगना ने एक ट्वीट साझा कर आरोप लगाया कि 'शाहीन बाग की दादी' भी नए कृषि कानूनों को लेकर किसानों के आंदोलन से जुड़ गई हैं।

कोरोना पर चर्चा के लिए PM मोदी ने बुलाई सर्वदलीय बैठक, टीके पर दे सकते हैं अहम जानकारी

कंगना के दावे को बताया गलत
नोटिस में कहा गया कि अभिनेत्री ने अपने उसी ट्वीट में कहा कि 'टाइम' पत्रिका में जगह बना चुकी वही दादी '100 रुपए में उपलब्ध' है। कानूनी नोटिस में कहा गया, 'कई खबरों में दावा किया गया कि दोनों महिलाएं अलग-अलग हैं। और अगर नहीं भी हैं तो उन्हें अपनी राजनीति चमकाने के लिए किसी बुजुर्ग महिला को अपमानित करने का अधिकार नहीं है।' इसमें कहा गया, 'यह साफ तौर पर नफरत फैलाने वाला ट्वीट है और जल्द से जल्द इस पर कदम उठाए जाने की जरूरत है।'

कंगना के खिलाफ दायर मानहानि मामले में जावेद अख्तर ने दर्ज कराया बयान

दिल्ली बॉर्डर पर डटे किसान
केंद्र के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ हजारों किसान दिल्ली से लगी सीमाओं पर पिछले एक सप्ताह से डटे हैं। किसानों को आशंका है कि इन कानूनों के कारण न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) की प्रणाली समाप्त हो जाएगी।      सरकार और प्रदर्शन कर रहे किसानों के बीच मामले के समाधान को लेकर बातचीत भी जारी है।  

यहां पढ़े 10 अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.