Friday, Jul 30, 2021
-->
farmers protest in delhi border affected vegetables fruit supply in national capital kmbsnt

किसान प्रदर्शन के चलते दिल्ली में सब्जियों की आपूर्ती प्रभावित, आसमान छू रहे दाम!

  • Updated on 12/1/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली (Delhi) के सिंघू और टिकरी बॉर्डर पर किसानों का आंदोलन (Farmers Protest) लगातार 5वेें दिन भी जारी रहा। इसके चलते दिल्ली में दूसरे राज्यों से सब्जियों और फलों की आपूर्ती प्रभावित हो रही है। आजादपुर मंडी (Azadpur Mandi) में आपूर्ती आधी हो रही है। वहीं दिल्ली के अन्य इलाकों में भी सब्जियों और फलों की सप्लाई पर असर पड़ा है।

किसान आंदोलन के कारण दिल्ली में सब्जियों के दाम आसमान छू रहे हैं। दिल्ली में सब्जियों की दामों में 50 से 100 रुपये तक की वृद्धि हो गई है। विक्रेताओं के अनुसार सिंघू और टीकरी बॉर्डर पर मार्ग बधित होने के कारण दिल्ली के पड़ोसी राज्यों पंजाब, हरियाणा, हिमाचल समेत जम्मू कश्मीर से आने वाले फलों और सब्जियों की सप्लाई बुरी तरह प्रभावित हुई है।

ट्रकों कोे बॉर्डर पार करने में हो रही दिक्कत
बताया जा रहा है कि बॉर्डर पर किसानों के जमे होने के कारण सब्जियों और फलों के ट्रकों को दिल्ली पहुंचने में भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। कई ट्रक दिल्ली में घुस ही नहीं पा रहे हैं तो कईयों को पहुंचने में लंब समय लग रहा है। दिल्ली में मटर के करीब 45 ट्रक पंजाब से आते हैं लेकिन किसान आंदोलन के चलते केवल 15 से 20 ट्रक ही आ पा रहे हैं। हालांकि आलू प्याज महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश और कर्नाटक से आते हैं तो इनकी आपूर्ती पर कोई खास असर नहीं पड़ा है, लेकिन पड़ोसी राज्यों से आने वाली सब्जियों की आपूर्ती प्रभावित हुई है, जिसके कारण दामों में भी वृद्धि हुई है। 

बढ़ाई गई सुरक्षा
किसान प्रदर्शनकारियों की संख्या बढ़ते देख उत्तर प्रदेश से लगते दिल्ली-गाजियाबाद बॉर्डर पर दिल्ली पुलिस ने सुरक्षा मजबूत कर दी है और कंक्रीट के अवरोधक लगा दिए हैं। वहीं, हजारों किसान सोमवार को दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर पर पांचवें दिन भी डटे रहे। राष्ट्रीय राजधानी को दूसरे हिस्सों से जोडऩे वाले कई अन्य राजमार्गों को भी अवरुद्ध करने की किसानों की चेतावनी के बीच सुरक्षा बढ़ा दी गई है।  

किसानों का शांतिपूर्ण प्रदर्शन जारी
बता दें कि सिंघू और टीकरी बॉर्डर दोनों जगह शांतिपूर्ण ढंग से प्रदर्शन जारी है तथा पिछले दो दिन से किसी अप्रिय घटना की कोई खबर नहीं मिली है, लेकिन पड़ोसी राज्य उत्तर प्रदेश से और किसानों के पहुंचने से गाजीपुर बॉर्डर पर प्रदर्शनकारियों की संख्या बढ़ गई है। प्रदर्शनकारियों ने उत्तरी दिल्ली के बुराड़ी स्थित मैदान में जाने के बाद बातचीत शुरू करने के केन्द्र के प्रस्ताव को अस्वीकार करते हुए कहा है कि वे कोई सशर्त बातचीत स्वीकार नहीं करेंगे। इसके बाद उन्होंने आगे की कार्रवाई के लिए एक बैठक बुलाई।

पढ़ें ये महत्वपूर्ण खबरें-

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.