Friday, Jul 30, 2021
-->
farmers-protest-kisan-andolan-on-delhi-haryana-singhu-tikri-border-cm-kejriwal-prsgnt

किसान आंदोलन पर बोले दिल्ली CM केजरीवाल- “किसानों की हालत देखकर नींद नहीं आती”

  • Updated on 12/2/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। केंद्र सरकार द्वारा लाए गए तीन नए कृषि कानूनों (Farm Bill) के खिलाफ किसानों का आंदोलन (Farmers Protest) आज सातवें दिन भी जारी है और अब किसानों का आक्रोश बढ़ता ही जा रहा है। आज केंद्र के साथ हुई बैठक के बाद भी कोई हल नहीं निकला तो अब कल यानी 3 दिसंबर को दोबारा बैठक की जाएगी। 

वहीँ, इस बीच किसानों के बढ़ते प्रदर्शन को देखते हुए कालिंदी कुंज बॉर्डर पर ट्रैफिक मूवमेंट बंद कर दिया गया है। किसानों ने सड़कों पर घेराव बढ़ा दिया है। इस वजह से दिल्ली में भारी ट्रैफिक देखने को मिल रहा है। हालांकि खबर मिल रही है कि  बंद दिल्ली-नोएडा बॉर्डर को फिर से खोल दिया गया है।

वहीँ, दिल्ली सरकार ने भी हरियाणा और पंजाब सरकार से किसानों की मांगें मांग लेने की अपील की है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कांफ्रेंस करते हुए कहा कि मैं केंद्र सरकार से भी अपील करता हूं कि किसानों की सभी मांगों को तुरंत मान लिया जाए। 

किसान प्रदर्शन के चलते दिल्ली में सब्जियों की आपूर्ती प्रभावित, आसमान छू रहे दाम!

उन्होंने कहा कि सड़कों पर बैठे किसान की हालत देख रात को नींद नहीं आती। इस दौरान उन्होंने पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह को लेकर उनके लगाए आरोपों पर सफाई देते हुए कहा कि पंजाब सीएम ने मुझ पर वो आरोप लगाए हैं जो मैंने कभी किया ही नहीं। 

केजरीवाल ने कहा, कल पंजाब के मुख्यमंत्री ने मुझपर आरोप लगाए कि दिल्ली में मैंने ये काले कानून पास कर दिए। इतने नाजुक मौके पर भी इतनी गिरी हुई राजनीति कैप्टन साहब कैसे कर सकते हैं! ये केंद्र के कानून हैं और जिस दिन राष्ट्रपति के हस्ताक्षर इन पर हुए थे ये उसी दिन से देश में लागू हो गए थे। 

वायरस संक्रमण के खतरे पर बोले किसान- 'कोरोना से ज्यादा खतरनाक है यह कानून'

उन्होंने आगे कहा, उन्होंने मुझपर झूठे आरोप इसलिए लगाए क्योंकि जबसे हमने दिल्ली के 9 स्टेडियमों को ज़ेल बनाने की इजाज़त नहीं दी, तबसे केंद्र की भाजपा सरकार हमसे नाराज़ है। कैप्टन साहब BJP के साथ दोस्ती निभा रहे हैं या उनपर कोई दबाव है क्योंकि उन्हें ED के नोटिस आ रहे हैं।

वहीँ, चिल्ला बॉर्डर पर धरना प्रदर्शन कर रहे किसान नेता भानु प्रताप सिंह ने मीडिया के सामने कहा कि जब तक हमारी पीएम मोदी से आमने-सामने बैठकर बात नहीं होगी तब तक आंदोलन जारी रहेगा। जब हरियाणा-पंजाब के किसानों को दिल्ली आने से रोका गया तो हमने जल्दबाजी में दिल्ली कूच किया। हम तैयारी से नहीं आए थे पर अब यहीं रहेंगे और तैयारी करते रहेंगे।

किसान आंदोलन से जुड़ी 10 बड़ी खबरें यहां पढ़ें

comments

.
.
.
.
.