Friday, Apr 23, 2021
-->
farooq abdullah said congress united and strong to fight divisive forces pragnt

सियासी घमासान के बीच बोले फारूक अब्दुल्ला- विभाजनकारी ताकतों से लड़ने के लिए एकजुट रहे कांग्रेस

  • Updated on 3/1/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। नेशनल कॉन्फ्रेंस (NC) के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला (Farooq Abdullah) ने कहा कि देश में 'विभाजनकारी ताकतों' से लड़ने के लिए वह चाहते हैं कि कांग्रेस (Congress) एकजुट और मजबूत रहे। जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि जब तक आतंकवाद के मूल कारण पर चोट नहीं की की जाएगी तब तक आतंकवादी लोगों को अपना निशाना बनाते रहेंगे।

इसरो की बड़ी उड़ान की PM मोदी ने की तारीफ, कहा- एक नए युग की शुरुआत

देश में विभाजनकारी ताकतों से लड़े कांग्रेस- अब्दुल्ला
अब्दुल्ला के बयान से एक दिन पहले वरिष्ठ कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद (Ghulam Nabi Azad) और 'समूह 23' के अन्य असंतुष्ट नेताओं ने यहां एक आयोजन में एकत्रित होकर पार्टी आला कमान को संदेश दिया था। कश्मीरी पंडितों द्वारा आयोजित एक समारोह में अब्दुल्ला ने संवाददाताओं से कहा, 'मैं कांग्रेस को मजबूत देखना चाहता हूं। मैं चाहता हूं कि कांग्रेस एक होकर देश में विभाजनकारी ताकतों से लड़े। कांग्रेस द्वारा देश की समस्याओं को सुलझाने का लोग इंतजार कर रहे हैं। यह इस राष्ट्र का अंग है और डेढ़ सौ साल पुरानी पार्टी है।'

Sweden की दिग्गज कंपनी IKEA भारत से बढ़ाएगी खिलौनों की खरीद

जम्मू में कांग्रेस नेताओं के इकट्ठा होने पर बोले अब्दुल्ला
शनिवार को जम्मू में कांग्रेस नेताओं के इकट्ठा होने के सवाल पर अब्दुल्ला ने कहा, 'वह (आजाद) कांग्रेस का हिस्सा हैं और वह सभी हैं जो आए थे। वे पार्टी से बाहर नहीं हैं, वे कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हैं।' राहुल गांधी ने कथित तौर पर बयान दिया था कि देश में लोकतंत्र मर चुका है। इस बाबत सवाल किए जाने पर अब्दुल्ला ने कहा, 'वह (गांधी) या अन्य नेता (आजाद इत्यादि) क्या कर रहे हैं इस पर प्रतिक्रिया क्यों दूं? मुझे उनसे क्या लेना देना? मेरी पार्टी नेशनल कॉन्फ्रेंस है।'

बंगाल में त्रिशंकु विधानसभा होने की स्थिति में ममता राजग से मिला सकती है हाथ: येचुरी

उन्होंने कहा, 'इस पर निर्णय उनको (कांग्रेस) करना है। समस्या उनके घर में है और उन्हें इसे सही करना होगा।' एक ढाबे के मालिक के बेटे आकाश मेहरा की हत्या पर पूछे गए सवाल के जवाब में अब्दुल्ला ने कहा कि यह दुखद है। फारूक अब्दुल्ला का ये बयान तब आया है जब कांग्रेस में खुलेआम बगावत देखने को मिल रही है। 

बुजुर्गों को कोरोना टीका लगने की शुरुआत, आरोग्य सेतु ऐप से बुक कराएं डेट

अब आजाद ने की मोदी की तारीफ
बता दें कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने रविवार को कहा था कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जैसे नेताओं को पसंद करते हैं जिन्हें अपनी जड़ों पर गर्व है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी चाय-विक्रेता के रूप में अपने अतीत के बारे में खुलकर बोलते हैं। जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री आजाद ने यहां गुर्जर देश चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा आयोजित समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि किसी व्यक्ति को दुनिया से अपनी असलियत नहीं छिपानी चाहिए।

आत्मनिर्भरता की आड़ में किसानों को कंपनी-निर्भर बनाना चाहती है मोदी सरकार : कांग्रेस

कही ये बात
उन्होंने कहा कि मैं खुद गांव का हूं और मुझे इसका फख्र है। मैं अपने प्रधानमंत्री जैसे नेताओं की काफी प्रशंसा करता हूं जो कहते हैं कि वह गांव से हैं। वह चाय बेचते थे। आजाद ने कहा कि मोदी के साथ मेरे राजनीतिक मतभेद हो सकते हैं, लेकिन वह भी अतीत में चायवाला होने के बारे में खुल कर बात करते हैं। आजाद की इस टिप्पणी से एक दिन पहले कांग्रेस में नेतृत्व परिवर्तन और संगठनात्मक फेरबदल की मांग करने वाले जी-23 के कई नेता एक मंच पर एकत्रित हुए थे।

मुजफ्फरनगर के गांवों में कृषि कानूनों के मुकाबले गन्ने का मुद्दा हुआ ज्यादा हावी

जम्मू में बोले सिब्बल
उनका कहना था कि पार्टी कमजोर हो रही है और वे इसे मजबूत करने के लिए एक साथ आए हैं। वहीं जम्मू में हुए कार्यक्रम में कपिल सिब्बल ने कहा था कि सच ये है कि हम कांग्रेस पार्टी को कमजोर होते देख रहे हैं। यही वजह है कि आज हम यहां इकट्ठा हुए हैं। हमारा उद्देश्य एक साथ होकर पार्टी को मजबूत करना है।

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें... 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.