Sunday, Nov 28, 2021
-->
female genital mutilation law against fgm in sudan prsgnt

सूडान में महिलाओं का खतना करने के खिलाफ बना कानून, अब होगी तीन साल की सजा

  • Updated on 5/2/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। महिलाओं में खतना करने को लेकर सूडान से एक खुश खबरी आई है। यहां महिलाओं के खतना करने को अब अपराध की कैटेगरी में शामिल कर लिया गया है अब यहां महिलाओं के खतना करने पर तीन साल की सजा दी जाएगी।

महाभारत में ही नहीं बल्कि भारत के इन इलाकों में आज भी जीवित है बहु पति प्रथा

इस बारे में सूडान की महिलाओं के बीच काम कर रहे एक एनजीओ का कहना है कि सूडान में सबसे ज्यादा खतना किया जाता है। ऐसे में इसका कानून बनना, यहां की महिलाओं के लिए यह एक नए युग की शुरुआत की तरह है।

दुनिया का एक अनोखा हास्यास्पद युद्ध जिसमें अपनों ने ही अपनों को तोप से उड़ा दिया

सूडान में सदियों से फीमेल जेनिटल म्यूटिलेशन यानी महिलाओं का खतना किया जाता रहा है, अब सदियों बाद इसे अपराध घोषित किया जाना किसी वरदान से कम नहीं है।

बता दें, खतना करने से महिलाओं को स्वास्थ्य सम्बंधी समस्याएं तो होती ही थी बल्कि उनकी मौत तक हो जाया करती थी।

Video: कोरोना संकट के बीच चर्चा में आया एलियन, दिखाई दी उड़नतस्तरी!

हालांकि अभी लोगों को इसके बारे जागरूक कराना जरुरी और चुनौतीपूर्ण होगा क्योंकि लोग इसे अपनी परंपरा से जोड़ कर देखते हैं और वो ये मानते हैं कि महिलाओं को शादी होने तक ऐसा रहना रहना चाहिए।

एक सनकी राजा जो लंबे सैनिकों की दीवानगी के चलते इतिहास में याद किया जाता है

सूडान में काम कर रहे एनजीओ का मानना है कि इस कानून से अब महिलाओं के खिलाफ किए जा रहे अत्याचार रुकेंगे। लेकिन अभी लोगों को समझाना जरुरी होगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.