Friday, Jul 01, 2022
-->
fighter plane thunders in leh army performs joint exercises albsnt

चीनी धोखा से भारत अलर्ट! लेह में गरजे फाइटर प्लेन, सेना ने किया संयुक्त युद्धाभ्यास

  • Updated on 6/26/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। चीन के साथ पूर्वी लद्दाख में तनाव कम होने को कोई आसार नहीं दिख रहे है। इस बीच भारतीय सेना ने भी अपनी अभ्यास शुरु कर दी है। जिससे लद्दाख के लेह क्षेत्र में आसमान में गरजते हुए फाइटर और ट्रांसपोर्ट विमान ने युद्धाभ्यास किया है। इस युद्धाभ्यास में भारतीय सेना और वायुसेना ने साझा हिस्सा लिया है।

सोनीपत में KGP एक्सप्रेस-वे पर हुई वायु सेना के हेलिकॉप्टर की इमरजेंसी लैंडिंग, देखें वीडियो

मालूम हो कि एक तरफ चीन के साथ बातचीत भी हुई। लेकिन हालिया चीन के धोखे से सजग भारत अब कोई भी चीनी वायदे पर आंख मूंदकर भरोसा नहीं करना चाहता है। वहीं चीन की सेना अभी-भी LAC के उस पर डटे हुए है। जिसको देखते हुए भारतीय सेना के इस युद्धाभ्यास को काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है। इस युद्धाभ्यास में सुखोई लड़ाकू विमान और चिनूक हेलिकॉप्टर,मी-17 हेलिकॉप्टर ने भी हिस्सा लिया है। हालांकि माना जा रहा है कि यह युद्धाभ्यास तनाव के बीच दोनों सेनाओं के बीच तालमेल को सही दिशा में बढ़ाना है। 

भारत के खिलाफ पाकिस्तान की नापाक साजिश, बढ़ा रहा परमाणु हथियारों का जखीरा

बता दें कि पूर्वी लद्दाख के गलवान घाटी, पैंगॉन्ग झील और दौलत बेग ओल्डी इलाके में तनाव दोनों देशों के बीच बने हुए है। वहीं सुखोई-30 एमकेआई अत्याधुनिक लड़ाकू विमान के अलावा हरक्यूलिस और मालवाहक विमान भी इस युद्दाभ्यास में हिस्सा लिया है। दरअसल हरक्यूलिस और  मालवाहक विमान का इस्तेमाल सेना के लिये रसद सामग्री और सिपाहियों को एक जगह से दूसरे जगह ले जाने में इस्तेमाल किया जाता है।

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.