Friday, Sep 30, 2022
-->
fir-registered-against-unknown-people-for-offering-namaz-at-lulu-mall

लुलु मॉल में नमाज अदा करने के मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज 

  • Updated on 7/15/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में पिछले दिनों खुले लुलु मॉल परिसर के अंदर नमाज पढऩे के मामले में पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है। पुलिस के एक अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। सोशल मीडिया पर मॉल में नमाज अदा करने वालों के एक समूह का वीडियो सामने आने के बाद हिंदू महासभा के कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया था।

ज्ञानवापी क्षेत्र में स्वयं प्रकट हुए थे ‘आदिविश्वेश्वर‘: हिंदू पक्ष के वकील

  •  

    मॉल के एक प्रतिनिधि की शिकायत के आधार पर पुलिस ने बृहस्पतिवार को प्राथमिकी दर्ज की जिसमें यह दावा किया गया कि वीडियो में नमाज पढ़ते दिखने वाले लोग उनके स्टाफ के सदस्य नहीं हैं।  पुलिस उपायुक्त (दक्षिण) गोपाल कृष्ण चौधरी ने बताया कि तहरीर के आधार पर अज्ञात लोगों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धाराओं 153 ए (विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देना), 295 ए (धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के इरादे से जानबूझकर किया गया कार्य) और अन्य संबंधित धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है।   

कांग्रेस का कटाक्ष, कहा- प्रधानमंत्री मोदी रुपये के लिए हानिकारक हैं

   मॉल प्रशासन ने शुक्रवार को पूरे परिसर में इस बात का नोटिस लगा दिया कि मॉल में किसी भी तरह के धार्मिक प्रार्थना की अनुमति नहीं होगी। लुलु मॉल में नमाज पढऩे का वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आने के बाद अखिल भारतीय हिंदू महासभा के कुछ सदस्य बृहस्पतिवार को मॉल के गेट के बाहर पहुंच गए और उन्होंने विरोध प्रदर्शन किया।

RJD MLA अनंत सिंह आपराधिक मामले में दोषी ठहराए जाने के बाद अयोग्य घोषित

     हिंदू महासभा के राष्ट्रीय प्रवक्ता शिशिर चतुर्वेदी ने कहा कि एक विशेष समुदाय के लोगों को मॉल के अंदर नमाज अदा करने की अनुमति दी जा रही है, इसलिए मॉल के अधिकारियों को हिंदुओं और अन्य समुदायों के लोगों को भी पूजा करने की अनुमति देनी चाहिए। महासभा के सदस्यों ने शुक्रवार को मॉल में हनुमान चालीसा का पाठ करने के लिए स्थानीय अधिकारियों से अनुमति मांगी जिसे अस्वीकार कर दिया गया।    

रुपया 80 प्रति डॉलर के ऐतिहासिक निचले स्तर, मोदी सरकार पर हमलावर विपक्ष

 अबू धाबी मुख्यालय स्थित लुलु समूह की एक शाखा लखनऊ के शहीद पथ पर शुरू की गई जिसका उद्घाटन उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया था। लुलु समूह का नेतृत्व भारतीय मूल के कारोबारी युसूफ अली एमए करते हैं। 

‘AAP’ ने पूछा- विदेश से अडानी का महंगा कोयला क्यों खरीद रही है मोदी सरकार?

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.