Friday, Jan 21, 2022
-->
first case of new corona virus strain came out in china fast growing cases prshnt

चीन में नए कोरोना वायरस स्ट्रेन का पहला मामला सामने आया, तेजी से बढ़ रहे केस

  • Updated on 1/1/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। दुनिया में कोरोना वायरस के कहर के साथ इसके नये स्ट्रेन (New Strain) ने भी अपना पैर पसारना शुरू हो गया है। अब चीन (China) में कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन का पहला मामला सामने आया है। रायटर्स यह जानकारी  दी गई है। कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन ब्रिटेन में सबसे पहले सामने आया था, उसके बाद यह स्ट्रेन दुनिया के अन्य देशों में फैल रहा है। कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन मिलने के बाद वैज्ञानिकों और दुनिया के लोगों में खौफ और हड़कंप मचा हुआ है।

TMC का 23वां स्थापना दिवस आज, CM ममता ने कहा- बंगाल में मां-माटी-मानुष को बढ़ाएंगे आगे

बता दें कि भारत में भी कोरोना के नए स्ट्रेन ने अपना दायरा बढ़ाना शुरू कर दिया है। कोरोना के नए स्ट्रेन के बीच दिल्ली के एलएनजेपी अस्पताल में 38 मरीज कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए हैं। दिल्ली के बाहर से आए इन मरीजों में से 4 में कोरोना का नया स्ट्रेन पाया गया है। ये जानकारी खुद दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद जैन ने दी है। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि दिल्ली में पॉजिटिविटी दर घटकर 0.8% हो गई है जो सात नवंबर को 15.26% थी। 85% से ज्यादा बेड खाली हैं। वैक्सीनेशन के लिए दिल्ली सरकार की ओर से 1000 सेंटर तैयार किए जा रहे हैं।

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद जैन ने आगे बताया कि उड़ानों पर प्रतिबंध लगा दिया गया है, जिसके चलते अधिक यात्री नहीं पहुंच रहे हैं। इसके साथ ही उन लोगों को ट्रेस और मॉनिटर कर रहे हैं जो पहले ही आ चुके हैं।

देश भर में कैसे हो रहा नए साल के सूरज का स्वागत, देखें तस्वीरे

चार मरीजों में पाया गया कोरोना का नया स्ट्रेन
बता दें कि कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन से संक्रमित मरीजों मेें चार का इलाज फिलहाल एलएनजेपी अस्पताल में चल रहा है। अस्पताल में यूके से भारत आए 38 कोरोना संक्रमित मरीजों को रखा गया है। आरटीपीसीआर टेस्ट पोजिटिव आने के बाद इन सभी का सैंपल नेशनल सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल (NCDC) और पुणे लैब में भेजा गया था। एनसीडीसी में हुई जांच के बाद 8 लोगों की रिपोर्ट आ गई है। जिसमें 4 मरीजों में कोरोना के नए स्ट्रेन होने की पुष्टि हुई है।

Farm Laws: CM गहलोत का आरोप- किसानों को भड़का रहे BJP नेता

नए स्ट्रेन के मरीजों को सामान्य मरीजों से रखा गया अलग
जिन मरीजों के अंदर नए स्ट्रेन की पुष्टि हुई है उनके लक्षण वैसे ही हैं जैसे सामान्य कोरोना पॉजिटिव मरीजों में देखने को मिल रहे हैं। ऐसे में नए स्ट्रेन वाले मरीजों के इलाज में पुराना तरीका ही अपनाया जा रहा है। अस्पताल के निदेशक डॉ. सुरेश कुमार ने बताया कि अस्पताल में भर्ती कोरोना के नए स्ट्रेन के मरीजों में फिलहाल कोई खास परेशानी नहीं है। किसी-किसी मरीजों को हल्का बुखार और गले में थोड़ी बहुत तकलीफ देखने को मिल रही है। सभी मरीजों को सामान्य कोरोना संक्रमित मरीजों से अलग रखा गया है।  

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.