Sunday, Oct 02, 2022
-->
flood-like situation in many parts of gujarat: pm modi assures help

गुजरात के कई हिस्सों में बाढ़ जैसी स्थिति : PM मोदी ने मदद का दिलाया भरोसा

  • Updated on 7/11/2022


नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। अहमदाबाद समेत गुजरात के दक्षिण एवं मध्य भागों में स्थित विभिन्न जिलों के कई हिस्सों में पिछले 24 घंटे में भारी बारिश होने से निचले इलाकों में बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो गयी है और वहां से करीब 6000 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी। मुख्यमंत्री कार्यालय के एक बयान के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल से बातचीत की तथा उन्हें केंद्र सरकार की तरफ से हर संभव सहायता का आश्वासन दिया।  इस बीच विपक्ष ने गुजरात मॉडल प भी सवाल उठाने शुरू कर दिए हैं। 

गोवा : कांग्रेस ने विधायक लोबो, कामत को अयोग्य करार देने के लिए दायर कीं याचिकाएं

  •  

एक सरकारी विज्ञप्ति के अनुसार व्यापक वर्षा के कारण राज्य राजकीय मार्गों एवं पंचायत सड़कों समेत 388 रास्ते बंद हो गये थे जिन्हें यातायात के लिए खोलने का प्रयास किया जा रहा है। इसमें कहा गया कि राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) की 13 टीम और राज्य आपदा मोचन बल (एसडीआरएफ) की 16 टीम बचाव अभियान कार्य में जुटी हुई हैं। बयान के अनुसार 13 बांधों को ‘हाई अलर्ट’ पर तथा आठ को ‘अलर्ट’ पर रखा गया है क्योंकि भारी बारिश के कारण उनका जलस्तर बढ़ गया है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग(आईएमडी) ने अगले पांच दिनों के दौरान दक्षिण गुजरात में छिटपुट स्थानों पर भारी बारिश तथा मध्य गुजरात एवं सौराष्ट्र में भी मूसलाधार बारिश होने का अनुमान व्यक्त किया है।   

वन संरक्षण कानून के नए संशोधित नियमों से कॉरपोरेट जगत को होगा फायदा: बृंदा करात

  •  

  अहमदाबाद में रविवार रात को 219 मिलीमीटर वर्षा हुई जिससे कई आवासीय क्षेत्रों तथा अंडरपास एवं सड़कों पर पानी जमा हो गया। शहर के कई क्षेत्र पानी में डूबे हुए हैं जिससे यात्रियों को कठिनाई हुईं। सोमवार को शहर में विद्यालय एवं महाविद्यालय बंद रहे। मध्य गुजरात के नर्मदा एवं छोटा उदयपुर जिलों में तथा दक्षिण गुजरात के सूरत, तापी एवं वलसाड में भारी बारिश का बुरा असर पड़ा है । वलसाड जिले में एक गांव से करीब 10 लोगों को निकाला गया जो औरंगा नदी में बाढ़ आ जाने के कारण फंस गये थे। राजस्व अधिकारी माधवी मिस्री ने यह जानकारी दी।      

SEBI ने Insider Trading में इस्तेमाल होने वाले ‘फर्जी’ खातों पर कसा शिकंजा

मिस्री के अनुसार वलसाड में वर्षा प्रभावित विभिन्न क्षेत्रों से करीब 1000 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया और 15 को बचाया गया , जिनमें पांच एक शहरी क्षेत्र के हैं। सुबह छह बजे तक पिछले 24 घंटे में छोटा उदयपुर जिले में बोडेली तालुका में 549 मिलीमीटर तथा क्वांत तालुका में 432 मिलीमीटर वर्षा हुई जिससे कई क्षेत्रों में पानी घुस गया। जिले में उच्च और हेरान नदियां उफान पर हैं जिससे निचले क्षेत्रों में बाढ़ आ गयी । एक अधिकारी के अनुसार 5245 लोगों को बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों से निकाला गया एवं 350 से अधिक को बचाया गया।      

5जी नीलामी में पहली बार आमने-सामने होंगे गुजरात के उद्योगपति अंबानी-अडानी

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.