Wednesday, Nov 20, 2019
foreign minister s jaishankar big statement on pok, said  india will soon be part of

विदेश मंत्री एस जयशंकर का POK पर बड़ा बयान, कहा- जल्द होगा भारत का हिस्सा

  • Updated on 9/18/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। विदेश मंत्री एस जयशंकर (S Jaishankar) ने पाकिस्तान (Pakistan) के कब्जे वाला कश्मीर को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा पीओके (POK) भारत का है और भारत का ही रहेगा। उन्होंने कहा कि उम्मीद करते हैं कि पीओके एक दिन भारत के भौतिक अधिकार क्षेत्र में होगा। जयशंकर का यह बयान ऐसे वक्त में आया है, जब जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 को निष्प्रभावी करने के बाद पाकिस्तान इसे अंतराष्ट्रीय मंचों पर उठाने की कोशिशों में जुटा है। वहीं भारत ने पीओके को चर्चा के केंद्र में लाने की रणनीति पर काम शुरू कर दिया है।

मोदी सरकार का बड़ा फैसला, सामान्य ड्यूटी करने वाले CRPF जवानों को जल्द मिलेगा प्रमोशन

शुरुआत रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath singh) ने यह कहते हुए की थी कि अब बात पीओके पर होगी। इसके बाद उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने इसे दोहराया। इसी को आगे बढ़ाते हुए विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने मोदी सरकार-2 के सौ दिन पूरे होने पर अपने मंत्रालय की उपलब्धियां बताते हुए मंगलवार को कहा कि पीओके भारत का अभिन्न हिस्सा है और उम्मीद है कि एक दिन वह फिर से भारत के अधिकार क्षेत्र में होगा। उन्होंने कहा कि अपने आंतरिक मसलों पर भारत के रुख में किसी तरह का बदलाव नहीं है।

PM मोदी के साथ आज होगी ममता बनर्जी की मुलाकात, कई मुद्दों पर करेंगी चर्चा

भारत (india) और अमरीका (America) के संबंधों और वाणिज्य से जुड़े एक सवाल पर जयशंकर ने कहा कि दोनों देशों के संबंध आगे की ओर बढ़े हैं, चाहे बुश प्रशासन हो, ओबामा या अब ट्रंप प्रशासन। जहां तक कारोबार का मामला है तो दोनों देशों के बीच समस्या सामान्य है। हाउडी मोदी कार्यक्रम से जुड़े सवाल पर जयशंकर ने कहा कि प्रधानमंत्री भारतीय समुदाय को पहले भी संबोधित करते रहे हैं। साल 2014 में उन्होंने न्यूयार्क में मैडिसन स्कवायर में और 2015 में सैन जोस में संबोधित किया था। उन्होंने कहा कि भारत-अमेरिका संबंध काफी बेहतर हैं। यह बड़े सम्मान की बात है कि प्रधानमंत्री मोदी के ह्यूस्टन कार्यक्रम के लिए अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारतीय समुदाय का आमंत्रण स्वीकार कर लिया है। 

यदि सावरकर प्रधानमंत्री होते तो पाकिस्तान नहीं होता: उद्धव ठाकरे

दुनिया समझ चुकी है 370 भारत का आंतरिक मसला

विदेश मंत्री जयशंकर ने कहा कि सीमा पार से होने वाले आतंकवाद, अनुच्छेद 370 (article 370) को हटाये जाने जैसे मुद्दे पर भारत के पक्ष से वैश्विक जगत को अवगत कराया गया। विदेश मंत्री ने कहा कि दुनिया जानती है कि अनुच्छेद 370 द्विपक्षीय नहीं, हमारा आंतरिक मुद्दा है। उन्होंने कहा कि 1972 के बाद से भारत की स्थिति स्पष्ट है और इसमें कोई बदलाव नहीं आने वाला है। पाकिस्तान पर परोक्ष रूप से निशाना साधते हुए विदेश मंत्री ने कहा कि भारत पड़ोस प्रथम की नीति को आगे बढ़ा रहा है लेकिन उसके समक्ष एक पड़ोसी की अलग तरह की चुनौती है जिसे सामान्य व्यवहार करने और सीमा पार आतंकवाद के खिलाफ कार्रवाई करने की जरूरत है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.