Tuesday, Jun 22, 2021
-->
foreign minister s jaishankar reached qatar sohsnt

विदेश मंत्री एस जयशंकर पहुंचे कतर, व्यापार साझेदारी को लेकर कही ये बात

  • Updated on 12/28/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर (S Jaishankar) बीते रविवार को कतर पहुंच गए हैं, उन्होंने यहां व्यापार जगत की दिग्गज हस्तियों से वर्ता की और भारत में निवेश के अवसरों को रेखांकित किया। साथ ही उन्होंने दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय साझेदारी को मजबूत करने के लिए प्रतिबद्धता की प्रशंसा की। जयशंकर खाड़ी देश की दो दिवसीय यात्रा पर हैं।

UAE के क्राउन प्रिंस ने ली कोरोना वैक्सीन की पहली डोज, आज से शुरू किया गया टीकाकरण अभियान


आत्मनिर्भर भारत के तहत नए अवसरों के बारे में दी जानकारी
उन्होंने भारत-कतर व्यापार गोलमेज सम्मेलन से अपनी यात्रा शुरू की। उन्होंने ट्वीट किया, 'व्यापार साझेदारी को मजबूत करने के लिए प्रतिबद्धता की सराहना की। उन्हें आत्मनिर्भर भारत के तहत नए अवसरों के बारे में जानकारी दी। शेख खलीफा और शेख फैसल, क्यूसीसीआई (कतर चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री) और क्यूबीए (कतरी बिजनेस एसोसिएशन) के अध्यक्षों को धन्यवाद।'

जापान के रक्षा उपमंत्री ने कहा, भारत, एशिया का गुरूत्व केंद्र है

कतर नेशनल म्यूजियम का किया दौरा
जयशंकर ने कतर नेशनल म्यूजियम का दौरा भी किया। उन्होंने कहा कि भारत और कतर के बीच ऐतिहासिक संपर्क रहे हैं और गुजरात वाणिज्य और संपर्कों के लिए एक महत्वपूर्ण द्वार था। इसके अलावा उन्होंने भारतीय समुदाय के साथ बातचीत भी की।

पाकिस्तान की अदालत ने डेनियल पर्ल हत्याकांड के आरोपी आतंकी उमर शेख को दिया छोड़ने का आदेश

विदेश मंत्री ने इसलिए किया कतर का शुक्रिया
इससे पहले विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कोरोना वायरस महामारी के दौरान खाड़ी देश में प्रवासी भारतीय समुदाय का खास ख्याल रखने के लिए बीते बृहस्पतिवार को कतर के उपप्रधानमंत्री शेख मोहम्मद बिन अब्दुलरहमान अल थानी का धन्यवाद व्यक्त किया। जयशंकर ने टेलीफोन पर हुई वार्ता के दौरान थानी का शुक्रिया अदा किया। मालूम हो कि थानी कतर के विदेश मंत्री भी हैं।

कोरोना के नए रूप से घबराई दुनिया, कैसे करें बचाव? जाने चार देशों के डॉक्टरों ने क्या बताया...

कोरोना के दौरान कतर ने की भारतीय समुदाय की देखभाल
इससे पहले विदेश मंत्री ने जयशंकर ने ट्वीट कर लिखा, 'कतर के उपप्रधानमंत्री के साथ वार्ता हुई। प्रधानमंत्री और कतर के अमीर के बीच आठ दिसंबर को हुई बातचीत के बाद संबंधों को आगे ले जाने पर चर्चा हुई। कोविड-19 महामारी के दौरान भारतीय समुदाय की अच्छी देखभाल के लिए उनका शुक्रिया अदा किया। उनके साथ जल्द मुलाकात करने को लेकर उत्सुक हूं।' 

ब्रिटेन में सामने आया कोरोना का एक और नया स्ट्रेन, मचा हड़कंप, दक्षिण अफ्रीका की उड़ानों पर लगाई रोक

कतर में करीब 7,56,000 भारतीय
हाल ही में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कतर के अमीर महामहिम शेख तमीम बिन हमद अल-थानी से टेलीफोन पर बातचीत की थी। दोनों नेताओं ने दोनों देशों के बीच निवेश और ऊर्जा सुरक्षा के क्षेत्रों में मजबूत सहयोग के संबंध में चर्चा की और इस दिशा में हाल में हुए सकारात्मक घटनाक्रमों की समीक्षा की। कतर इन्वेस्टमेन्ट अथॉरिटी के निवेश को और सुविधाजनक बनाने के लिए विशेष कार्यबल गठित करने का भी निर्णय लिया गया था। कतर में करीब 7,56,000 भारतीय रहते हैं और देश में यह सबसे बड़ा प्रवासी समुदाय है।

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.