foreign student accuses professor of improper behavior at iit kanpur

IIT कानपुर में विदेशी छात्रा ने प्रोफेसर पर लगाया अनुचित व्यवहार का आरोप

  • Updated on 9/10/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। IIT कानपुर में शिक्षक पर विदेशी छात्रा से अनुचित व्यवहार करने का मामला सामने आया है। शिकायत के बाद आरोपी शिक्षक को तत्काल शिक्षण कार्य से हटाने का आदेश दिया गया।

सिसोदिया बोले- जल्दी ही दिल्ली का होगा अपना शिक्षा बोर्ड, करेगा छात्रों की मदद

दरअसल, पिछले सप्ताह कानपुर में पढ़ने वाली एक विदेशी छात्रा ने एक शिक्षक पर गलत व्यवहार करने का आरोप लगाया था। जिसके बाद उनपर कार्यवाई करते हुए उन्हें हटा दिया गया।

यूपी: फर्जी डिग्री के जरिए नौकरी पाने वाली दो शिक्षिका बर्खास्त

IIT कानपुर की ओर से मंगलवार को जारी एक बयान में कहा गया, ‘‘पिछले सप्ताह एक छात्रा ने एक शिक्षक के खिलाफ अनुचित व्यवहार का आरोप लगाया था। संस्थान की आंतरिक शिकायत समिति ने उच्चतम न्यायालय के निर्देशानुसार कामकाजी महिलाओं के शोषण की रोकथाम के लिये सेक्शुअल हैरेसमेंट ऑफ विमन एट वर्कप्लेस (विशाखा) के दिशा निर्देशों के आधार पर जांच आरंभ की और जिस पाठ्यक्रम में छात्रा पढ़ रही थी वहां से आरोपी शिक्षक को हटा दिया।

 iit kanpur

कार्यस्थल पर होने वाले यौन-उत्पीडऩ के खिलाफ 1997 में उच्चतम न्यायालय ने कुछ निर्देश जारी किए थे, जिसे ‘विशाखा दिशानिर्देश’ के रूप में जाना जाता है। संस्थान ने कहा कि जांच समिति की रिपोर्ट आने के बाद कड़ी कार्रवाई की जायेगी।

परिवार को मिले बीमे का पैसा, इसलिए फाइनेंसर ने करवाई खुद की हत्या

बता दें, इस बारे में संपर्क किये जाने पर संस्थान के उपनिदेशक प्रो. मनींद्र अग्रवाल ने विदेशी छात्रा की नागरिकता के बारे में बताने से इनकार कर दिया। संस्थान की ओर से जारी बयान में कहा गया कि किसी भी शिकायतकर्ता की पहचान नहीं बताई जाये। इस बात को ध्यान में रखते हुए संस्थान मीडिया तथा अन्य से यह अनुरोध करता है कि इस घटना में किसी भी तरह से पीड़िता की पहचान को उजागर नहीं किया जाये। 

हाई कोर्ट ने कार्ति चिदंबरम का केस स्पेशल कोर्ट ट्रांसफर करने के आदेश की मांगी कॉपी

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.