Wednesday, Oct 20, 2021
-->
former himachal pradesh chief minister virbhadra singh passes away kmbsnt

हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री वीर भद्र सिंह का निधन, IGMC शिमला में ली आखिरी सांस

  • Updated on 7/8/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह का लंबी बीमारी से जूझने के बाद आज गुरुवार सुबह 3.40 मिनट पर शिमला के इंदिरा गांधी मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल अस्पताल में निधन हो गया। पिछले दो महीने से वीरभद्र सिंह अस्पताल में भर्ती थे।

उनको दो बार कोरोना भी हुआ था, हालांकि दोनो ही बार वो वायरस को मात देकर ठीक हुए थे। बीते दो दिन से उन्हें सांस की तकलीफ थी। जिसके बाद उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था। वीर भ्रद सिंह कांग्रेस के दिग्गज नेता रहे और 6 बार हिमाचल के मुख्यमंत्री रहे थे। हिमाचल की राजनीति में उनकी अच्छी खासी पकड़ थी। 

प्रधान शिक्षा मंत्री, मांडविया स्वास्थ्य मंत्री और रिजिजू बने कानून मंत्री, देखें पूरी लिस्ट

पीएम मोदी ने जताया शोक
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीरभद्र सिंह के निधन पर शोक जताया और कहा कि सिंह ने राज्य में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई तथा लोगों की सेवा की। मोदी ने ट्वीट कर कहा, वीरभद्र सिंह का लंबा राजनीतिक जीवन रहा जो प्रशासनिक और विधायी अनुभवों से भरा हुआ था। उन्होंने हिमाचल प्रदेश में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई और लोगों की सेवा की। उनके निधन से दुखी हूं। परिवार के सदस्यों और समर्थकों के प्रति मेरी संवेदनाएं हैं।

पेट्रोल-डीजल के दाम वृद्धि के खिलाफ प्रदर्शन करेंगे आंदोलनकारी किसान 

कांग्रेस नेताओं ने जताया शोक 
इसके साथ ही कई कांग्रेस नेताओं ने भी वीरभद्र सिंह के निधन पर शोक जताया है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी, पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा और कई अन्य कांग्रेस नेताओं ने वीरभद्र सिंह के निधन पर दुख जताया और राज्य के विकास में उनके योगदान को याद किया। राहुल गांधी ने ट्वीट किया, वीरभद्र सिंह जी सही मायनों में एक कद्दावर नेता थे। जनता और कांग्रेस की सेवा करने की उनकी प्रतिबद्धता आखिर तक अनुकरणीय रही। उनके परिवार और मित्रों के प्रति मेरी संवेदना है। हम उनकी कमी महसूस करेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.