Tuesday, Dec 07, 2021
-->
former-vice-president-hamid-ansari-wrote-in-book-modi-said-publicise-work-prsgnt

पूर्व उपराष्ट्रपति ने लिखा- मोदी ने कहा 'मुस्लिमों के लिए किए गए कामों का प्रचार मेरी राजनीति नहीं'

  • Updated on 1/28/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कांग्रेस ने नेता और पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी (Pranab Mukherjee) की किताब ‘द प्रेसिडेंशियल इयर्स’ अपनी कई राजनीतिक व्यक्तित्व वाली बातों की वजह पिछले दिनों चर्चा में रही। इस किताब में सोनिया गांधी, राहुल गांधी और पीएम मोदी के बारे में भी कई बातें लिखी गई हैं।

और अब इसी तरह पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी की किताब भी चर्चा में आ गई है।  उनकी एक किताब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर कई दावे किए गए हैं।

लाल किले पर झंडा फहराने के खालिस्तानी- पाकिस्तानी मंसूबों का पर्दाफाश, हुडदंग को बताया था फतह

किताब में मोदी सरकार से जुड़ी कई बातें 
पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी की किताब ‘बाइ मेनी अ हैपी ऐक्सिडेंट’ में उन्होंने मोदी सरकार के बारे में कई बातें लिखी हैं। इस दावा किया गया है कि पीएम मोदी ने मुस्लिम लोगों के लिए काम किया लेकिन वो उसका प्रचार नहीं करते क्योंकि वो हिंदू राष्ट्र के सपने के साथ सरकार में हैं। 

इस किताब में दावा किया गया है कि मोदी ने एक बार कहा था कि मुस्लिम समुदाय के लिए उन्होंने बहुत काम किया है लेकिन इसका प्रचार न किया जाए क्योंकि यह उनकी राजनीति को सूट नहीं करता है। 

दिल्ली हिंसा पर दीप सिद्धू की किसान नेताओं को चेतावनी- मैंने राज खोले तो नहीं मिलेगा भागने का रास्ता

2007 की मीटिंग को याद कर लिखा 
किताब में पूर्व उपराष्ट्रपति ने 2007 में हुई मोदी के साथ एक मीटिंग के बारे में यदा कर लिखा हैं, ‘जब नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री थे, एक सामान्य राजनीतिक कार्यक्रम में उनसे मुलाकात हुई थी। मैंने उनसे गोधरा के बाद होने वाली हिंसा के बारे में पूछा कि ऐसा क्यों होने दिया गया?

उन्होंने कहा कि लोग उनके केवल एक पक्ष को देखते हैं, कोई भी मुस्लिमों के लिए किए गए अच्छे कामों की तरफ ध्यान नहीं देता। खासकर मुस्लिम लड़कियों की शिक्षा के लिए उन्होंने बहुत काम किए हैं। तब मैंने उनसे कहा कि इसका ब्योरा दीजिए, ताकि प्रचार किया जाए। इसपर मोदी बोले- यह मेरी राजनीति को सूट नहीं करता है।’

किसान हिंसा पर खुलासा- अकाली दल व सुखबीर बादल के इशारे पर हुआ लाल किले पर तांडव

पीएम बनाते थे दबाव 
उन्होंने यह भी बताया है कि राज्यसभा में बिल पास करवाने के लिए भी पीएम मोदी दवाब बनाते थे। किताब में लिखा है कि राज्यसभा में शोर-शराबे के बीच बिल पास कराने के लिए मोदी दबाव बनाते थे। मोदी नहीं चाहते थे कि राज्यसभा में एक दिन में ही बिल पास हो जाए लेकिन बीजेपी के गठबंधन को लगता था कि अगर लोकसभा में उनका बहुमत है तो राज्यसभा मेंउनका नैतिक अधिकार है कि बिना किसी बाधा के बिल पास करा लिया जाए। 

पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.