Wednesday, Jan 19, 2022
-->
fresh-snowfall-raises-problems-in-kashmir-aircraft-operations-affected-at-srinagar-airport-prshnt

कश्मीर में ताजा बर्फबारी से बढ़ी मुश्किलें, श्रीनगर हवाई अड्डे पर विमानों का प्रभावित हुआ परिचालन

  • Updated on 1/9/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। मौसम के मिजाज में बदलाव के साथ ही जम्मू कश्मीर (Jammu kashmir) में श्रीनगर (Shrinagar) और घाटी के कुछ अन्य इलाकों में शनिवार को नये सिरे से बर्फबारी (Snow Fall) हुई, जिससे कारण हवाई अड्डे पर विमानों का परिचालन बाधित हुआ। जानकारी के मुताबिक ताजा बर्फबारी तड़के शुरू हुई। इस सप्ताह की शुरुआत में लगातार चार दिन तक बर्फबारी हुई, जिससे बाद हर ओर बर्फ की चादर नजर आई। अधिकारियों ने बताया कि सुबह 8.30 बजे तक श्रीनगर में चार इंच बर्फबारी हुई।

लाठी-कुल्‍हाड़ी से मार-मार कर युवकों ने की डोल्फिन की हत्या, पुलिस की गिरफ्त में 3 लोग

तीन इंच बर्फबारी
अधिकारियों ने बताया कि दक्षिण कश्मीर में कुलगाम में पांच इंच, अनंतनाग में तीन, शोपियां में तीन और पुलवामा में चार इंच बर्फबारी दर्ज की गई। उत्तर कश्मीर के बांदीपोरा में दो इंच बर्फ गिरी वहीं मध्य कश्मीर के बडगाम और गांदेरबल जिलों में तीन इंच बर्फबारी हुई। अधिकारियों ने कहा कि उत्तरी कश्मीर में गुलमर्ग के प्रसिद्ध स्की-रिजॉर्ट और दक्षिण में पहलगाम पर्यटन स्थल पर बर्फबारी की कोई खबर नहीं है। 

उन्होंने बताया कि घाटी के कुछ अन्य इलाकों में बारिश भी हुई। मौसम विभाग के कार्यालय ने शनिवार को जम्मू कश्मीर में दूर-दराज के स्थानों पर बहुत हल्की बारिश या बर्फबारी होने का पूर्वानुमान व्यक्त किया था। विभाग ने यह भी कहा था कि भारी मात्रा में बर्फबारी का पूर्वानुमान नहीं है और मौसम 14 जनवरी तक शुष्क रहने की संभावना है।    

रेलवे ने 6 राज्‍यों के लिए की नई स्‍पेशल ट्रेनों की घोषणा, यात्रियों को होगा सीधा फायदा

हवाई अड्डे से विमान परिचालन प्रभावित
अधिकारियों ने कहा कि ताजा बर्फबारी के कारण हवाई यातायात प्रभावित हुआ और श्रीनगर हवाई अड्डे से विमान परिचालन नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि रनवे पर बर्फ जमा होने के कारण विमान संचालन में बाधा आ रही है और इससे कई उड़ानों में देरी हुई है। अधिकारियों ने कहा, आज उड़ानों में देरी होने की संभावना है, वहीं कई उड़ाने रद्द भी की गई हैं।      

अधिकारियों ने कहा कि श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग सातवें दिन शनिवार को यातायात के लिए बंद रहा। उन्होंने कहा कि 260 किलोमीटर लंबा राजमार्ग इस सप्ताह की शुरुआत में भारी बर्फबारी और भूस्खलन के कारण बंद हो गया था, जिसे शुक्रवार को साफ कर दिया गया और सबसे पहले फंसे हुए वाहनों को जाने की अनुमति दी गई लेकिन यहां अभी किसी नए यातायात को अनुमति नहीं दी गई है। अधिकारियों ने कहा कि श्रीनगर में न्यूनतम तापमान शून्य से 4.0 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया।

संसद की तरफ कूच करते उपद्रवी को देख नाच-गा रहा था ट्रंप परिवार, वीडियो वायरल

दिल्ली में छाया कोहरा
बता दें कि राष्ट्रीय राजधानी के कुछ हिस्सों में कोहरा छाया हुआ है। भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार पालम और सफदरजंग में न्यूनतम तापमान 12.2 डिग्री सेल्सियस और 11.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। शुक्रवार शाम दिल्ली एनसीआर के कई हिस्सों में बारिश हुई।

वैज्ञानिकों ने कहा कि शनिवार से हवा की गति में काफी तेजी आने की संभावना है, जिससे हवा की गुणवत्ता में सुधार होगा।9 जनवरी को दिल्ली के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश की संभावना है, जिसके बाद हवा की गति लगभग 25 किमी प्रति घंटे तक पहुंचने की संभावना है। 

केंद्रीय पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के वायु गुणवत्ता निगरानी केंद्र, सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च सफर ने भी कहा कि अगले दो दिनों में वेंटिलेशन की स्थिति में मामूली सुधार होने की उम्मीद है। वहीं सफर के पूर्वानुमान में कहा गया है कि 9 जनवरी और 10 जनवरी को AQI में कुछ हद तक सुधार होने की संभावना है।

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.